संजय सिंह, सांसद, आप ने पेयजल एवं स्वच्छता मिशन पर उठाए सवाल! | IV24 News | Lucknow

भैंसटा नदी के पुनरोद्धार का कार्य सभी स्थानों पर 15 फरवरी तक प्रारम्भ करा दिया जाये – जिलाधिकारी श्री खरे

भैंसटा नदी पुनरोद्धार कार्ययोजना वित्तीय वर्ष 2019-20 के सम्बन्ध में कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी पुलकित खरे ने कहा कि जिन विकास खण्डों की ग्राम पंचायत से भैंसटा नदी निकली है उसके पुनरोद्धार हेतु संबंधित ग्राम पंचायत के प्रधान, ग्राम पंचायत अधिकारी, टीए एवं रोजगार सेवक मिलकर होने वाले कार्य का तत्काल लेबर स्टीमेट बनाकर डीसी मनरेगा के माध्यम से अधिशासी अभियन्ता शारदा नहर को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।

जिलाधिकारी ने अधि0अभि0 शादरा नहर को निदेश दिये कि लेबर स्टीमेट प्राप्त होते ही डीपीआर तैयार कर नदी की सफाई कार्य हेतु एजेंसी का चयन कर कार्य शीघ्र प्रारम्भ कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने प्रधानों, खण्ड विकास अधिकारियों व संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये भैंसटा नदी के पुनरोद्धार का कार्य सभी स्थानों पर 15 फरवरी 2019 तक प्रारम्भ करा दिया जाये। उन्होंने कहा कि गांव में मनरेगा के अन्तर्गत काम करने वालोें के अभियान चलाकर जाॅब कार्ड बनाये जाये और मनरेगा काम में अधिक से अधिक लोगों को लगाया जाये। जिलाधिकारी ने कहा कि नदी का पुनरोद्धार होने से अधिक वर्षा होने पर क्षेत्र में जलभराव कम होगा के साथ फसल की कम क्षति होने के साथ बाढ़ से होने वाले नुकसान को भी कम किया जा सकेगा और चेकडैम बन जाने से जल के बहाव को रोक कर जल संचयन में वृद्धि होने के साथ कृषकों को फसलों की वर्ष भर सिंचाई की सुविधा मिल सकेगी। उन्होंने कहा कि इसके साथ ही ग्राम प्रधान एवं संबंधित अधिकारी नदी के किनारे एवं अन्य स्थानों पर वृक्षारोपण करायें और नदी किनारे किये अतिक्रमण को तत्काल प्रभाव से हटवाये और नदी के आस-पास के तालाब आदि का भी जीर्णोंद्धार करायें।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी आनन्द कुमार, अपर जिलाधिकारी संजय कुमार सिंह, डीएफओ राकेश चन्द्रा, उप जिलाधिकारी श्रद्धा शांडिल्यान, उपायुक्त मनरेगा प्रमोद सिंह चन्द्रा, सहित ब्लाक अहिरोरी, टड़ियावां, हरियावां, पिहानी, कछौना, सुरसा, मल्लावां व बेहन्दर के खण्ड विकास अधिकारी, संबंधित ग्राम पंचायतों के प्रधान, ग्राम पंचायत अधिकारी, टीए, रोजगार सेवक आदि मौजूद रहे।