संजय सिंह, सांसद, आप ने पेयजल एवं स्वच्छता मिशन पर उठाए सवाल! | IV24 News | Lucknow

पुलिस भर्ती बोर्ड कार्यालय पर ट्रेनिंगशुदा दारोगाओं ने किया धरना-प्रदर्शन

आज पुलिस भर्ती बोर्ड पर ट्रेनिंगशुदा दारोगाओं ने धरना-प्रदर्शन किया। उनका कहना है कि उनकी ट्रेनिंग पूरी कराकर उन्हें घर बैठा दिया गया। आज 15 महीने हो गए हैं, न तो शासन हमारी बात सुन रहा है और न ही प्रशासन।

जैसी तेजी इलेक्शन प्रोसेस में दिखाई जाती है, वैसी ही तेजी जब रोजगार की बात आती है तो सरकारें क्यों नहीं दिखाती?

प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थियों का कहना है कि हम सभी बर्बाद हो गए हैं। काफी लोग दूसरी नौकरी छोड़ कर आये हैं, अब वो कहीं के नहीं रहे। उनका कहना है कि हमें जल्दी नियुक्ति दी जाए। हमारा सब्र का बांध टूट रहा है। सरकार हमारा ऑर्डर डेलीवर कराके जल्दी से नियुक्ति दे। ऑर्डर 8 महीने से रिज़र्व है और सरकार चाहे तो ऑर्डर जल्दी ला सकती है। जैसी तेजी इलेक्शन प्रोसेस में दिखाई जाती है, वैसी ही तेजी जब रोजगार की बात आती है तो सरकारें क्यों नहीं दिखातीं? सरकार इस मामले मे बहुत ज्यादा सुस्त हो गयी है। हमारा भविष्य बर्बाद हो रहा है, लेकिन इनको हमारी कोई फिक्र ही नहीं है। इन्हे तो सिर्फ वोट की ही चिन्ता रहती है। पिछले 20 दिनों से इकोगार्डेन में बैठकर धरना दे रहे हैं, पर आज तक कोई मिलने नहीं आया है और न ही हमारा हाल जानने आया। हमें मजबूरी में ईकोगार्डेन से बाहर शासन और प्रशासन को अपनी मनोस्थिति बताने के लिए और उन्हें जगाने के लिए निकलना पड़ा। अगर सरकार एक हफ्ते में कुछ सार्थक कदम नहीं उठाती है तो हम फिर से सड़कों पर उतरेंगे।

रिपोर्ट – सिद्धांत सिंह