जर्जर स्कूल भवनों की फोटो सहित रिपोर्ट उपलब्ध करायें – पुलकित खरे

कार्य न करने वाले संकुल प्रभारियों व शिक्षामित्रों बाहर करें - जिलाधिकारी

                    पढे़गा-बढे़गा कछौना के संबन्ध में एच0सी0एल0 फाउण्डेशन के पदाधिकारियों के साथ कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी पुलकित खरे की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया। बैठक की अध्यक्षता करते हुये जिलाधिकारी ने कछौना ब्लाक के उपस्थित संकुल प्रभारियों से कहा कि उनके क्षेत्र के स्कूलों में इण्टरलाकिंग, क्यारी, समरसेबिल, बाउण्ड्रीबाल, शौंचालय, हैण्डवाश आदि की व्यवस्था हो गई है या नही, इसके साथ ही गांव में कितने बच्चे हैं, कितने प्राइवेट स्कूल में व कितने सरकारी स्कूल में हैं और कितने बच्चे स्कूल नही जा रहे हैं, की सूची तीन दिन बाद होने वाली समीक्षा बैठक में लेकर आयेंगे।
                   उन्होने संकुल प्रभारियों को निर्देश दिये कि गांव में गठित एस0एम0सी0 के सदस्यों के साथ विद्यालयों की निगरानी करें तथा एस0एम0सी0 में निर्देशों के अनुसार स्कूलों की व्यवस्था का परीक्षण करें। उन्होने कहा कि  जिन विद्यालयों में शौंचालय नही है उनकी सूची जिला पंचायतराज अधिकारी को उपलब्ध करायें। जिलाधिकारी ने कहा कि संकुल प्रभारी प्रधान को विश्वास में लेकर ड्राप आउट बच्चों को स्कूलों में भर्ती कराकर उनकी संख्या बढ़ायें । जिलाधिकारी ने संकुल प्रभारियों को यह भी निर्देश दिये कि अपने क्षेत्र में जर्जर स्कूल भवनों की फोटो सहित रिपोर्ट उपलब्ध करायें। बेसिक शिक्षा अधिकारी के द्वारा टीचर ट्रेनिंग दिये जाने की जानकारी पर जिलाधिकारी ने कहा कि अध्यापकों को ट्रेनिंग देने के लिये अच्छे प्रशिक्षित लोगों को ही लगाया जाये जो विद्यालय प्रबन्धन के संबन्ध में समुचित जानकारी दे सके।
जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी ने बताया कि मार्च के अन्त तक सभी विद्यालयों को गैस कनेक्शन उपलब्ध करा दिये जायेंगे। स्कूलों में झूला लगवाने के संबन्ध में एच0सी0एल0 फाउण्डेशन ने स्कूलों मे झूला लगवाने की जिम्मेदारी ली। बैठक में जिलाधिकारी ने जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी मसीहुज्जमा सिद्धीकी को निर्देश दिये कि जिन संकुल प्रभारियों व शिक्षामित्रों द्वारा कार्य नही किया जा रहा है उनके विरूद्ध कार्यवाही करते हुये उन्हे बाहर किया जाये।
                   जिलाधिकारी ने प्रोैढ़ शिक्षा के संबन्ध में संकुल प्रभारियों को निर्देश दिये कि प्रोैढ़ों को इतनी शिक्षा दी जाये कि वह अपना नाम लिखकर हस्ताक्षर कर सके व जोड़ घटाना आना चाहिये। मिड-डे-मील के संबन्ध में जिलाधिकारी ने संकुल प्रभारियो को निर्देश दिये कि मिड-डे-मील मीनू के अनुसार बच्चों को दिया जाये। बैठक में जिला विकास अधिकारी राजितराम मिश्रा, जिला पंचायतराज अधिकारी अनिल कुमार सिंह, एडीओ पंचायत कछौना, संकुल प्रभारी तथा एच0सी0एल0 फाउण्डेशन के पदाधिकारी आदि मौजूद रहे।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


Solve : *
2 × 17 =


url and counting visits