सई नदी की करुण कथा : पौराणिक और ऐतिहासिक नदी मर रही है

बिना अनुमति नहीं होगा विज्ञापनों का प्रकाशन और प्रसारण

 

अंतर्ध्वनि इलेक्शन वॉच डेस्क-


विधानसभा सामान्य निर्वाचन 2017 के अन्तर्गत गठित मीडिया प्रमाणन एवं अनुवीक्षण समिति के सम्बन्ध में व्यय प्रेक्षक तुषार मोहिते ने निर्देश दिए हैं कि भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार जनपद स्तर पर गठित मीडिया प्रमाणन एवं अनुवीक्षण समिति द्वारा विज्ञापनों के प्रमाणीकरण कार्य के अलावा केबल नेटवर्क, प्रिन्ट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया सहित सोशल मीडिया के माध्यमों का भी अनुवीक्षण किया जाये।

मोहिते ने कहा कि राजनैतिक दल/प्रत्याशी बिना पूर्वानुमति के विज्ञापनों का प्रकाशन नही कराएंगे। चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशी या राजनैतिक दल के निर्वाचन से जुड़े सभी विज्ञापनों/पेड न्यूज/समाचारों का मीडिया प्रमाणन एवं अनुवीक्षण समिति द्वारा रिकार्ड रखा जाए। राजनैतिक दलों/प्रत्याशियों द्वारा समिति की पूर्वानुमति प्राप्त कर प्रकाशित किए जाने वाले विज्ञापन का पूरा विवरण समिति को उपलब्ध कराना होगा। बताया कि प्रत्याशी/राजनैतिक दलों को विज्ञापन प्रकाशित कराने के लिये प्रपत्र-27 पर आवेदन करना होगा। आवेदन पत्र का प्रारूप निर्वाचन कार्यालय स्थित एमसीएमसी कक्ष से प्राप्त किया जा सकता है। आवेदक को विज्ञापन प्रकाशन की तिथि से कम से कम 03 दिन पूर्व प्रपत्र-27 पर आवेदन करना होगा।

मोहिते ने कहा है कि कोई भी विज्ञापन पूर्वानुमति के बिना किसी अभ्यर्थी के पक्ष में प्रिन्ट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया, रेडियो, केबल नेटवर्क, एफएम चैनलों आदि में प्रकाशित/प्रसारित किया गया है तो सम्बन्धित आरओ को इसकी सूचना समिति द्वारा दी जायेगी और आरओ व्यय प्रेक्षक को देंगे। इसके अतिरिक्त समिति द्वारा पेड न्यूज और सोशल मीडिया के माध्यमों की भी निगरानी की जाए।