वस्‍तु और सेवाकर दरों में कटौती से सरकार के वित्‍तीय संसाधानों में आ सकती है कुछ कमी

रिजर्व बैंक ने कहा है कि नीतिगत ब्‍याज दरों में बदलाव न करने का फैसला उपभोक्‍ता मूल्‍य सूचकांक के मध्‍यम अवधि लक्ष्‍यों को प्राप्‍त करने के लिए किया गया है। श्री उर्जित पटेल ने बताया कि कुछ राज्‍यों में किसानों ऋण माफी योजना लागू होने, पेट्रोलियम उत्‍पादों पर उत्‍पाद शुल्‍क और वैट की आंशिक वापसी और कई वस्‍तुओं की वस्‍तु और सेवाकर दरों में कटौती से सरकार के वित्‍तीय संसाधानों में कुछ कमी आ सकती है।

.
url and counting visits