मेरे पास माँ है कहने वाले शशि कपूर आज नहीं रहे

मेरे पास माँ है कहने वाले जाने-माने फिल्‍म अभिनेता शशि कपूर का आज मुंबई में एक निजी अस्‍पताल में निधन हो गया। इनका असली नाम बलवीर राज कपूर था । वे उन्‍यासी वर्ष के थे। वे पिछले कुछ समय से किडनी की बीमारी से पीडि़त थे। शशि कपूर के अभिनेता भतीजे रणधीर कपूर ने बताया है कि उनका अंतिम संस्‍कार कल सवेरे किया जाएगा। उन्‍होंने अंग्रेजी की 12 और 164 हिन्‍दी फिल्‍मों सहित 175 से अधिक फिल्‍मों में अभि‍नय किया।
18 मार्च 1938 को कोलकाता में जन्मे शशि कपूर मशहूर अभिनेता पृथ्वीराज कपूर के तीसरे पुत्र थे। अपने समय में इंडस्ट्री के सबसे व्यस्त अभिनेताओं में शुमार शशि कपूर, पिता के मार्गदर्शन में चार साल की उम्र में ही रंगमंच पर आ गए थे। शशि कपूर ने 60, 70 और 80 के दशक में फिल्मी पर्दे पर जो जलवा बिखेरा वैसा अब कहीं देखने को नहीं मिलता। ‘सत्यम शिवम सुंदरम’, ‘नमक हलाल’, ‘जब-जब फूल खिले’, शर्मीली और ‘कभी-कभी’ जैसी सुपर हिट फिल्मों में उनकी अदायगी हमेशा सराही जाती है। ‘दीवार’ फिल्‍म में उनका फेमस डायलॉग ‘मेरे पास मां है’ आज भी लोगों की जुबान पर है। शशि कपूर ऐसे अभिनेता थे जिन्होंने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ब्रिटिश और अमेरिकी फिल्मों में भी काम किया था। वर्ष 2011 में भारत सरकार ने उन्हें पद्मभूषण से नवाज़ा और सन 2015 में उन्‍हें दादा साहब फाल्के पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया। ऐसे महान अभिनेता को विनम्र श्रृद्धांजलि। राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्‍ट्रपति वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, सूचना प्रसारण मंत्री स्‍मृति ईरानी और सूचना प्रसारण राज्‍यमंत्री राज्‍यवर्धन राठौड ने शशि कपूर के निधन पर गहरा शोक व्‍यक्‍त किया है।

url and counting visits