संजय सिंह, सांसद, आप ने पेयजल एवं स्वच्छता मिशन पर उठाए सवाल! | IV24 News | Lucknow

संतान की लम्बी उम्र के लिए माताओं ने रखा सकट व्रत

● मनकामेश्वर मन्दिर में बेटियो के लिए किया गया पूजन

लखनऊ। माघ कृष्ण पक्ष चतुर्थी को होने वाला गणेश चतुर्थी सकट व्रत का बहुत महत्व है। जहां एक ओर पूरे शहर में माताओं ने पुत्रों के लिए व्रत रखा और सकट पूजन किया तो वही डालीगंज के मनकामेश्वर मन्दिर में महिलाओं ने सामूहिक पूजन किया और बेटियों के लिए व्रत रखा। मन्दिर की श्रीमंहत देव्या गिरि के सानिध्य में माताओं ने सकट पूजन किया बाद में रात्रि मे चन्द्रमा के उदय होने पर व्रत समाप्त किया। सर्वप्रथम श्रीगणेश भगवान जी की पूजा हुई। गणेश जी को नैवेद्य, तिल, लड्डू, शकरकंद, अमरूद, गुड़ आदि अर्पित किया गया। उसके बाद बेटियों का पूजन विधि विधान से किया गया।

मन्दिर सेवादार उपमा पाण्डेय की अगुवाई मे पूजन मे गौरा गिरी, कल्याणी गिरी, रितु गिरी, आकृति पाण्डेय, ईशा निषाद, रितु निषाद, तत्सत महाराज मौजूद रहे। महंत देव्या गिरि ने बताया कि इस बार सकट व्रत में शोभन योग योग के होने से व्रत और सर्वमंगलकारी रहा।