Interview : स्नातक निर्वाचन क्षेत्र लखनऊ की निर्दलीय प्रत्याक्षी कान्ति सिंह का विशेष साक्षात्कार

पूर्व प्रधान की दबंगई से दलित बस्तियों के लोग परेशान, स्थानीय पुलिस नहीं दर्ज कर रही एफ आई आर

कड़ा, कौशाम्बी : सैनी थाना क्षेत्र के पुलिस चौकी अजुहा के धुमाई ग्रामसभा में पूर्व प्रधान व उसके गुर्गों ने 19 सितम्बर को गांव के ही एक दलित युवक की बाइक व टच मोबाइल छीनकर जाति सूचक शब्द का प्रयोग करते हुए जमकर लाठी डंडे से मारा पीटा था। घटना की सूचना पीड़ित युवक ने स्थानीय पुलिस को दिया लेकिन एक माह के बाद भी दबंग के विरुद्ध कोई कार्यवाही नहीं की गई।

बताते चलें कि पीड़ित जितेन्द्र कुमार च..र निवासी धुमाई 19 सितम्बर को अजुहा बाजार से सब्जी लेकर अपने घर मोटरसाईकिल से जा रहा था। तभी गांव के ही दबंग पूर्व प्रधान ने अपने गुर्गों के साथ युवक को रोककर जाति सूचक शब्द का प्रयोग करते हुए बाइक तथा टच मोबाईल छीनकर मारने पीटने लगे। दबंगों के चंगुल से किसी तरह छूटकर अपने घर पहुंच आया। घटना की जानकारी युवक ने परिजनों को दिया। घटना की सूचना स्थानीय चौकी में देते ही दूसरे दिन पीड़ित के घर के बाहर मोटर साइकिल तो दबंगों ने पहुंचा दिया। लेकिन टच का मोबाईल वापस नहीं मिलने पर सैनी थाने में भी पीड़ित ने लिखित तहरीर दिया।

दबंगों के सामने लाचार पुलिस ने दबंगों के विरुद्ध कोई कार्यवाही किया और न ही पीड़ित दलित युवक का एफ आई आर दर्ज किया गया। और टच मोबाइल पुलिस ने दबंगों से वापस नहीं दिलाया। छह माह पूर्व एक दलित सफाई कर्मचारी को भी इन्हीं दबंगों ने जमकर मारा पीटा था। दलित युवक को आए दिन रास्ते बीच रोककर पूरी दलित बस्ती को तबाह करने की दबंग धमकी दे रहे हैं। दबंगों के सामने लाचार पुलिस का ऐसा ही ढुलमुल रवैया रहा तो एक छोटी सी मारपीट की घटना बहुत बड़ी घटना का रूप ले सकती है।

जब दलित युवक के साथ हुई घटना के बारे में अजुहा पुलिस चौकी प्रभारी विजय कुमार कुशवाहा जी से बात जरिए फोन करने की कोशिश की गई, फोन ही नहीं पिक-अप हुआ।
बस्तियों के लोगों ने पुलिस अधीक्षक कौशांबी का ध्यान इस ओर आकृष्ट करने की अपील किया है।

कड़ा से सैयद काशिफ हैदर की रिपोर्ट

url and counting visits