एक शिक्षामित्र के सहारे पांच कक्षाओं में हुआ शिक्षण कार्य

बिना सूचना के दो-दो अध्यापकों की गैर हाजिरी से शिक्षण कार्य रहा ठप

राहुल मिश्र, बघौली, हरदोई

अहिरोरी ब्लाक अंतर्गत ग्राम सभा हूसेपुर स्थित प्राथमिक विद्यालय में शिक्षा व्यवस्था चौपट होने की कगार पर है । यहां अध्यापकों द्वारा शिक्षा व्यवस्था में घोर लापरवाही बरती जा रही है । लापरवाही का आलम यह है कि यहां पर चार अध्यापक होने के बावजूद बुधवार के दिन सिर्फ एक शिक्षामित्र के द्वारा विद्यालय संचालित करने का मामला प्रकाश में आया है । जबकि विद्यालय में दो शिक्षक एवं दो शिक्षामित्र तैनात हैं ।

विद्यालय में बुधवार को समय सुबह करीब दस बजे शिक्षामित्र अनिल अकेले शिक्षण कार्य करते मिले । जबकि तीन टीचर विद्यालय से नदारद मिले । जिसमें प्रधानाध्यापिका किरन गुप्ता लिखित रूप से अवकाश पर थीं, लेकिन सहायक अध्यापक आदर्श पटेल व एक शिक्षामित्र बिना किसी लिखित सूचना के विद्यालय अनुपस्थित रहे ।

प्राथमिक विद्यालयों में पांच कक्षाएं होती हैं, जिनका एक शिक्षक के सहारे शिक्षण कार्य संभव नहीं है । लेकिन यहां के शिक्षकों का बच्चों के भविष्य की ओर कोई ध्यान नहीं है । एक साथ तीन-तीन शिक्षकों के विद्यालय से गैरहाजिर रहने से विद्यालय की शिक्षण व्यवस्था तहस-नहस हो गई । सरकार द्वारा शिक्षा व्यवस्था को सुधारने के लिए प्रतिदिन नए नए नियम लागू किए जा रहे हैं, जिससे कि सरकारी विद्यालयों में शिक्षण कार्य में सुधार लाया जा सके । लेकिन यहां कई शिक्षकों के विद्यालय न आने से शिक्षण कार्य पूर्ण रूप से बाधित रहा । बच्चे विद्यालय में उछलकूद मचाते रहे । खंड शिक्षा अधिकारी चंद्रशेखर यादव से संपर्क करने पर उन्होंने बताया कि मामला संज्ञान में नहीं है ।

url and counting visits