सई नदी की करुण कथा : पौराणिक और ऐतिहासिक नदी मर रही है

वैश्विक कल्याण के लिए वैश्विक विज्ञान

  • केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह ने नेशनल मीडिया सेंटर, दिल्ली में राष्ट्रीय विज्ञान दिवस 2023 की विषयवस्तु “वैश्विक कल्याण के लिए वैश्विक विज्ञान” का अनावरण किया।
  • भारत के 2023 में प्रवेश करने के साथ ही यह विषय भारत की उभरती वैश्विक भूमिका और अंतर्राष्ट्रीय क्षेत्र में उसकी बढ़ती दृश्यता को इंगित करता है: डॉ. जितेंद्र सिंह
  • राष्ट्रीय विज्ञान दिवस (एनएसडी) हर वर्ष 28 फरवरी को ‘रमन प्रभाव’ की खोज के उपलक्ष्य में आयोजित किया जाता है।
  • मंत्री महोदय ने राष्ट्रीय विज्ञान दिवस की विषयवस्तु, सामग्री एवं आयोजनों पर उनके सावधानीपूर्वक मार्गदर्शन के लिए प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के प्रति अपनी गहरी कृतज्ञता व्यक्त की।
  • “वैश्विक कल्याण के लिए वैश्विक विज्ञान” का विषय भारत के जी-20 की अध्यक्षता संभालने के साथ पूरी तरह से मेल खाता है जिससे वह एशिया, अफ्रीका और दक्षिण अमेरिका के विकासशील देशों सहित वैश्विक दक्षिण की आवाज बनेगा : डॉ. जितेंद्र सिंह
  • यह देश और विदेश में लोगों और वैज्ञानिक बिरादरी को एक साथ आने, एक साथ काम करने तथा मानव जाति के कल्याण के लिए विज्ञान करने की प्रसन्नता का अनुभव करने के अवसर प्रदान करने के लिए एक नए युग की शुरुआत करता है।
  • विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) वैज्ञानिक संस्थानों, अनुसंधान प्रयोगशालाओं और स्वायत्त वैज्ञानिक संस्थानों में पूरे देश में राष्ट्रीय विज्ञान दिवस के उत्सव का समर्थन, उत्प्रेरण और समन्वय करने के लिए एक केन्द्रीय (नोडल) एजेंसी के रूप में कार्य करता है।