उप जिलाधिकारी सदर ने सरकारी जमीन पर कब्जा करते युवक को ट्रैक्टर समेत पकड़ा, मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने किया गिरफ्तार

राहुल मिश्र, बघौली

उत्तर प्रदेश सरकार प्रदेश में खाली पड़ी सरकारी जमीनों को भू माफियाओं के कब्जे से छुड़ाने के लिए काफी संवेदनशील बनी हुई है । जिसके तहत सरकार ने प्रदेश में जगह-जगह एंटी भू माफिया टीमों का गठन किया गया है । लेकिन भूमाफिया सरकारी जमीनों पर अवैध कब्जा करने से बाज नहीं आ रहे हैं ।

ऐसा ही एक मामला अहिरोरी ब्लाक की ग्राम सभा मदारा से सामने आया है । जहां एक युवक को सरकारी चरागाह की जमीन पर अवैध कब्जा करना महंगा पड़ गया और उसे जेल की हवा खानी पड़ गई । मिली जानकारी के अनुसार ग्राम सभा मदारा में लगभग बारह सौ बीघा सरकारी जमीन खाली पड़ी है जिस पर सरकार द्वारा चलाए जा रहे वृक्षारोपण कार्यक्रम के तहत लगभग चालीस हजार पौधों का पौधरोपण कराया गया था और इस जमीन की रखवाली के लिए दो चौकीदार भी तैनात किए गए थे, ताकि अन्ना मवेशियों से इन पौधों की सुरक्षा की जा सके । लेकिन इस खाली पड़ी सरकारी चरागाह की जमीन पर यहां के भूमाफिया प्रभु की निगाह कब्जे की नियत से काफी दिनों से लगी हुई थी और उसने सोमवार दिनाड़्क दो दिसंबर को ट्रैक्टर लेकर इस सरकारी जमीन को अवैध कब्जे की नियत से जुतवाने लगा । जिसकी सूचना इस जमीन की सुरक्षा कर रहे चौकीदारों ने उप जिलाधिकारी सदर राकेश गुप्ता को दी ।

सरकारी जमीन पर अवैध कब्जे की सूचना मिलते ही उप जिलाधिकारी सदर ने अपनी संयुक्त टीम व देहात कोतवाली प्रभारी रंध्रा सिंह व पुलिस बल के साथ अचानक मौके पर छापा डाला । यहां उन्होंने अभियुक्त प्रभु व एक ट्रैक्टर को सरकारी जमीन की जुताई करते हुए मौके पर ही पकड़ लिया और अभियुक्त प्रभु को ट्रैक्टर समय देहात कोतवाली ले आए । अभियुक्त के खिलाफ सरकारी जमीन पर अवैध कब्जे की विभिन्न धाराओं में मुकदमा पंजीकृत करवाकर जेल भेज दिया । इस टीम में कानूनगो रामजी द्विवेदी क्षेत्रीय लेखपाल शिव रूप द्विवेदी, अमित मिश्रा, आलोक त्रिपाठी आदि मौजूद रहे ।

url and counting visits