कुपोषित एवं अति कुपोषित बच्चों के सर्वांगीण विकास एवं कुपोषण की रोकथाम के लिए शबरी संकल्प योजना लागू की जा रही

file pic.

मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि वित्तीय वर्ष 2017-18 से 1,761 आंगनवाड़ी केंद्र भवन का निर्माण किया जा रहा है और इस वर्ष हम 8,950 आंगनवाड़ी केन्द्रों का निर्माण करायेंगे । मनरेगा एवं पंचायती राज विभाग के कन्वर्जेन्स से प्रदेश में 6,398 आंगनवाड़ी केंद्र भवन का निर्माण पूर्ण हो चुका है साथ ही 2,871 आंगनवाड़ी केंद्र भवन निर्माणाधीन हैं ।

मुख्यमन्त्री ने बताया शबरी संकल्प योजना के अन्तर्गत चिन्हित बच्चों और आवश्यकतानुसार उनके परिवार को पोषाहार, बच्चों का सम्पूर्ण टीकाकरण, राशन कार्ड, जॉब-कार्ड आदि उपलब्ध कराने की व्यवस्था है । कुपोषित एवं अति कुपोषित बच्चों के सर्वांगीण विकास एवं कुपोषण की रोकथाम के लिए प्रदेश सरकार द्वारा विभिन्न विभागों के मध्य समन्वय स्थापित कर 41 चिन्हित जनपदों में शबरी संकल्प योजना लागू की जा रही है । जनसहभागिता सुनिश्चित करने तथा जागरूकता लाने के उद्देश्य से दो प्रकार की समुदाय आधारित गतिविधियां (गोदभराई एवं अन्नप्राशन) प्रतिमाह, प्रत्येक आंगनबाड़ी केन्द्र पर आयोजित की जा रही हैं ।

जनपद चित्रकूट व चन्दौली में आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को स्मार्ट फोन वितरित कर रियल टाइम मॉनीटरिंग का प्रशिक्षण प्रारम्भ कर दिया गया है । निर्धारित समयावधि में कुपोषण की दर में कमी लाने के लिए पोषण अभियान एक सशक्त कदम है। कार्यक्रम के सफल संचालन हेतु आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों और मुख्य सेविकाओं को स्मार्ट फोन उपलब्ध कराया जा रहा है ।

url and counting visits