संजय सिंह, सांसद, आप ने पेयजल एवं स्वच्छता मिशन पर उठाए सवाल! | IV24 News | Lucknow

बाल-शिव की प्रतिमा मनकामेश्वर में भेंट की गई

  • गणेश द्वार से गाजे-बाजे के साथ निकाली गई शोभायात्रा ।
  • एंड टीवी के नए धारावाहिक “बाल शिव” के कलाकार भी रहे उपस्थित ।
  • श्रीमहंत देव्यागिरि की उपस्थिति में किया गया पूजन ।
  • श्रीमहंत ने कहा कि बाल्यावस्था में सुसंस्कार देने से तैयार होंगे जिम्मेदार नागरिक ।

लखनऊ। भाद्र कृष्ण पक्ष की पंचमी सर्वार्थसिद्धि योग में शुक्रवार 27 अगस्त को शिव के बाल रूप की प्रतिमा डालीगंज के प्रतिष्ठित मनकामेश्वर मठ-मंदिर परिसर में एंड टीवी के नए धारावाहिक बाल शिव के कलाकारों द्वारा भेंट की गई। उत्साहिक भक्तों ने गणेश द्वार से मंदिर तक गाजे-बाजे और जयकारों के साथ शोभायात्रा भी निकाली। मठ-मंदिर की श्रीमहंत देव्यागिरि की उपस्थिति में पूजन भी किया गया। उन्होंने कहा कि संस्कारों के बीज, बाल्यावस्था में ही पड़ जाने चाहिए। ऐसे में “बाल शिव” धारावाहिक धर्म आस्था और नैतिकता से बच्चों को भी जोड़ेगा। अभिभावकों को चाहिए कि वह बच्चों को संस्कारित करें। इससे न केवल बच्चों का भविष्य बेहतर होगा बल्कि राष्ट्र का जिम्मेदार नागरिक भी तैयार होगा।

बाल शिव की इस मूर्ति को जयपुर के कलाकारों ने सफेद संगमरमर में गढ़ा है। 39 इंच की इस मूर्ति का वजन लगभग 500 किलोग्राम है। इस अवसर पर “बाल शिव” की भूमिका निभा रहे आन तिवारी और अनुसुइया का रोल कर रहीं मौली गांगुली भी मौजूद रहीं। ‘बाल शिव’ का प्रीमियर 31 अगस्त को रात आठ बजे होगा और इस शो का प्रसारण सोमवार से शुक्रवार किया जायेगा।