जागरूकता अभियान ‘अपनी भाषा सुधारिए’ सफलता की ओर

November 6, 2019 0

‘डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला’ की ओर से प्रयागराज से ५ नवम्बर से आरम्भ अभिनव और अभूतपूर्व अभियान ‘अपनी भाषा सुधारिए’ दैनिक जागरण’ समाचारपत्र-कार्यालय से आरम्भ होकर दूरदर्शन-केन्द्र, प्रयागराज में विराम लिया है, जो कि […]

घोर ‘अतिवाद’ का परिचय देती भारत-सरकार!

October 29, 2019 0

◆ किसकी पहल पर जम्मू-कश्मीर में ‘विदेशी’ सांसद बुलाये गये? डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय भारत की सरकार इन दिनों जिस तरीक़े से अपने चरित्र-चाल-चेहरा को अन्तरराष्ट्रीय मंचों से ख़ूबसूरत दिखाने की कोशिश कर रही है, वे […]

‘डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला’ की ओर से ‘अपनी भाषा सुधारिए!’ अभियान नवम्बर-माह के प्रथम सप्ताह से होगा शुरू

October 24, 2019 0

● ‘डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला’ की ओर से ‘अपनी भाषा सुधारिए!’ अभियान प्रयागराज में नवम्बर-माह के प्रथम सप्ताह से प्रारम्भ होगा। ★ अभियान का प्रथम चरण :– (समय : दस मिनट) हिन्दीभाषानुरागीजन प्रयागराज के […]

‘उत्तरप्रदेश लोकसेवा आयोग’ की सामान्य हिन्दी की मुख्य परीक्षा के प्रश्नपत्रों में अशुद्धियाँ-ही-अशुद्धियाँ!..?

October 22, 2019 0

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय (भाषाविद्-समीक्षक), प्रयागराज- 18 अक्तूबर को उत्तरप्रदेश लोकसेवा आयोग की ओर से आयोजित सामान्य हिन्दी की मुख्य परीक्षा के प्रश्नपत्र में ‘अधिकतम अंक’ दिया गया है, जबकि ‘पूर्णांक’ होना चाहिए, तभी ‘पूर्णांक-प्राप्तांक’ की […]

०समय-सापेक्ष चिन्तन० तब ‘रावण’ का भी ‘विकल्प’ पूछा जाता था

September 30, 2019 0

रावण का अर्थ है, ‘जो सम्पूर्ण लोक को रुला दे’, जो आज भी प्रासंगिक है। आज का रावण सम्पूर्ण भारतवासियों को रुला रहा है और हमारी आहें उसकी ‘अहम्मन्यता के घड़े’ में भरती जा रही […]

“हिन्दीभाषियों में निस्स्वार्थ सेवाभाव प्रबल हो” : डॉ० पृथ्वीनाथ

September 26, 2019 0

● जंघई, जौनपुर के ‘नागरिक पी० जी० कॉलेज’ में कर्मशाला सम्पन्न “हिन्दी की उन्नति के लिए यह आवश्यक है कि हिन्दीभाषियों, विशेषत: उन लोग में, जो दायित्वपूर्ण पदों पर प्रतिष्ठित हैं, निस्स्वार्थ सेवा का भाव […]

जयपुर में हिन्दीमय होता ‘एन०आइ०टी०, उत्तराखण्ड

September 18, 2019 0

अधिकतर लोग का मानना है कि चिकित्सा,अभियान्त्रिकी, विज्ञान-प्रौद्योगिकी, रक्षा-प्रतिरक्षा-आरक्षा, कृषि, वानिकी आदिक विषयों के विद्यार्थी और अध्यापक ‘हिन्दी-भाषा’ को ग्रहण करने, सीखने, संशोधित-परिष्कार करने के प्रति सजग और जागरूक नहीं रहते। उन लोग की मान्यता […]

अतीत के झरोखे से : छायावाद के चतुर्थ स्तम्भ महादेवी जी के साथ पृथ्वीनाथ पाण्डेय-द्वारा की गयी एक भेंटवार्त्ता

September 11, 2019 0

● महीयसी महादेवी वर्मा की मृत्युतिथि (११ सितम्बर) पर विशेष मैंने महादेवी जी के साथ अस्सी के दशक में एक मुक्त भेंटवार्त्ता की थी; तब मैं विद्यार्थी और पत्रकार की भूमिका में भी होता था। […]

विचारणीय-शोचनीय : मोदी है तो मुमकिन है?..!

September 4, 2019 0

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय– केन्द्र-राज्य की सरकारों ने देश की जनता की गाढ़ी कमाई को बेहयाई के बेसन में लपेटकर पकौड़ीनुमा निर्दय अर्थव्यवस्था की कूटनीतिभरी बर्बरता की दहकती कड़ाही में तलकर चट करने की नीतियाँ बनाती […]

हिन्दी हैं हम

September 2, 2019 0

भाषाकार फादर कामिल बुल्के की आज (1 सितम्बर) जन्मतिथि है। डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय (भाषाविद्-समीक्षक) ‘कामिल’ का अर्थ है, एक प्रकार का पुष्प’। जायसी ने ‘पद्मावत’ में क्या ख़ूब कहा है, “फूल मरै पर न मरै […]

अब तक के सबसे घातक-भीषण आर्थिक संकट और सन्त्रास के दौर से गुज़रता देश

August 29, 2019 0

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय – इस समय देश में शासन करनेवाले भले अपनी पीठ थपथपा लें फिर भी वर्तमान और भविष्य अतीव भयावह दिख रहा है। नोटबन्दी और जी०एस०टी० के दुष्प्रभाव का ही परिणाम है कि […]

डॉ॰ पृथ्वीनाथ पाण्डेय जी की पाठशाला में जानिए कुछ ऐसे शुद्ध शब्द जिन्हें हम बहुधा अशुद्ध लिखते हैं

August 25, 2019 0

१. कार्यकर्त्री २. काबिलीयत ३. शख़्सीयत ४. आप्रवासी ५. दीप प्रज्वलित ६. एलान ७. रंग-विरंगे ८. नन्हे-मुन्ने ९. प्रविधान १०. आरोपित ११. जन्मतिथि १२. सौहार्द १३. मिष्टान्न भण्डार १४. एतिराज १५. बिलकुल १६. करगिल १७. […]

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय ने प्रयागराज की महापौर अभिलाषा नन्दी की कार्यशैली पर प्रश्न उठाया

August 21, 2019 0

वरिष्ठ नागरिक भाषाविद् और समीक्षक डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय ने प्रयागराज नगर की प्रथम नागरिक कहलानेवाली महापौर अभिलाषा नन्दी के कार्य करने और जन-समस्या सुनने के तौर-तरीक़े पर आपत्ति जतायी है। डॉ० पाण्डेय ने बताया कि […]

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला

August 20, 2019 0

नीचे दी गयी संस्थान टीन-पट्टिका को ध्यानपूर्वक देखिए। वह संस्थान ‘भरद्वाज-आश्रम’, प्रयागराज के सामनेवाले मार्ग पर स्थित है। टीन की यह पट्टिका वर्षों से संस्थान के प्रवेशद्वार के ऊपर लगी हुई है। इस संस्थान में […]

प्रकाशन-जगत् का शुक्ल और कृष्णपक्ष

August 17, 2019 0

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय– पुस्तकें जीवन-मरण का आख्यान करती हैं। पुस्तकें कृष्ण और शुक्ल-पक्षों का अनावरण करती हैं। पुस्तकें मर्मान्तक पीड़ा देती हैं। पुस्तकें मन-प्राणों पर इन्द्रधनुषी रंगों का अनुलेपन करती हैं। पुस्तकें राग-अनुराग और द्वेष-विद्वेष […]

मेरी सरकार रहे, चली जाये, मगर अभद्रता की अनुमति नहीं ही दूँगा : अटलबिहारी वाजपेयी

August 16, 2019 0

● आज (१६ अगस्त) अटल जी की मृत्युतिथि है। ◆ “मेरी सरकार रहे, चाहे चली जाये, मगर अभद्रता की अनुमति नहीं ही दूँगा”— अटल (अटलबिहारी वाजपेयी के साथ डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की मुक्त भेंटवार्त्ता)– पं० […]

आप ‘मार्गदर्शन’ को ग्रहण कर अपना भविष्य समुन्नत करें

August 12, 2019 0

प्रियवर विद्यार्थीवृन्द! ‘दैनिक जागरण’ में ‘नई राहें’ पृष्ठ पर सोमवार को मुद्रित पाक्षिक स्तम्भ ‘मार्गदर्शन’ के अन्तर्गत आपकी शैक्षिक, सामाजिक तथा मनोवैज्ञानिक समस्याओं का निराकरण और शंकाओं का सहज व्यावहारिक समाधान प्रेरक शब्दों में किया […]

आप समस्त सुशिक्षित-प्रशिक्षित ‘अनियोजित’ (बेरोज़गार) विद्यार्थियों के लिए एक गुरु (डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय) का सन्देश’

July 29, 2019 0

सामूहिक आर्थिक साम्राज्य की स्थापना करें। आप अनियोजित (बेरोज़गार) विद्यार्थियों की संख्या लाखों में है और आप में अभियोग्यता की कोई कमी नहीं है। आप सभी मिलकर एक ‘प्रतियोगी प्रकाशन’ आरम्भ करके अरबों-खरबों रुपये सम्मान […]

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला में जानिए वाक्य-विन्यास

July 16, 2019 0

आज ‘गुरु पूर्णिमा’ है। ★ आषाढ़-मास की ‘पूर्णिमा’ को ‘गुरु पूर्णिमा’ की संज्ञा दी गयी है। इस सारस्वत पर्व पर ‘गुरुस्मरण’ का विधान है। ● डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला हिन्दी-व्याकरण का नियम वाक्य-विन्यास :- […]

‘भाषा की पाठशाला’ के अन्तर्गत डॉ. पृथ्वीनाथ पाण्डेय से पूछें शब्दार्थ

June 18, 2019 0

‘दैनिक जागरण’ की ‘शनिवासरीय’ प्रस्तुति ‘भाषा की पाठशाला’ में हम ‘दो शब्दों’ पर सम्यक् रूपेण विचार करते हैं और अन्त में उन शब्दों के प्रति अपनी पाठक-पाठिकाओं को जागरूक करते हैं, जो अनभिज्ञता के कारण […]

1 2 3 4
url and counting visits