सई नदी की करुण कथा : पौराणिक और ऐतिहासिक नदी मर रही है

देश की समाचार-चैनलों और समाचारपत्र-पत्रिकाओं का नंगा सच!

July 11, 2020 0

— आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय ‘भाषा-परिष्कार-समिति’केन्द्रीय कार्यालय, इलाहाबाद! अब अनिवार्य हो गया है, देश के मीडिया-तन्त्र (मुद्रित-वैद्युत) में प्रत्येक स्तर पर काम करनेवाले-वालियों संवाददाताओं, समाचारलेखकों, समाचारवाचकों, सम्पादकों, प्रधान सम्पादकों, प्रूफ़-संशोधकों उद्घोषकों, सूत्रधारों आदिक के लिए […]

अनुच्छेद ३७० बनाम धारा ३७० : देश के समाचार चैनल ‘अनुच्छेद’ और ‘धारा’ में अन्तर नहीं जानते

August 6, 2019 0

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय– हमारे देश के ९५ प्रतिशत से अधिक मीडियाकर्मी और अधिवक्ता यह नहीं जानते कि ‘धारा’ और ‘अनुच्छेद’ में क्या अन्तर है। यही कारण है आज तक हमारे मीडियाकर्मी और अधिवक्ता ‘अनुच्छेद ३७०’ […]