उत्तरप्रदेश लोकसेवा आयोग अथवा उत्तरप्रदेश लोकसेवा ‘भ्रष्टाचार’ आयोग?

June 22, 2018 0

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय १- महत्त्वपूर्ण परीक्षाओं का परीक्षाओं से पूर्व ‘सार्वजनिक’ (पेपर लीक) हो जाना। २- प्रश्नपत्रों के अन्तर्गत ‘साक्षात्कार-परीक्षाओं’ में धाँधली। ३- प्रश्नपत्रों में एक ही प्रश्न के लिए ‘अनेक वैकल्पिक’ शुद्ध उत्तरों का […]

url and counting visits