मतदान आपकी जिम्मेदारी, ना मज़बूरी है। मतदान ज़रूरी है।

परिचर्चा : निर्गुण काव्य परम्परा के संवाहक संत रैदास

March 29, 2022 0

दिनांक 18 फरवरी 2022 को इलाहाबाद विश्वविद्यालय के हिंदी विभाग द्वारा आयोजित शुक्रवारीय परिचर्चा ऑनलाइन मो में सम्पन्न हुई थी । परिचर्चा का विषय “निर्गुण काव्य परम्परा के संवाहक संत रैदास ” लीक से हटकर […]

“बेटियों को आत्मनिर्भर की दीक्षा करने की आवश्यकता है”– आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय

February 17, 2022 0

राष्ट्रीय सेवा योजना, सिदो कान्हु मुर्मू विश्वविद्यालय दुमका पीजी इकाई ०१ के कार्यक्रम पदाधिकारी डॉ० अजय शुक्ल के द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ विषय पर एक दिवसीय ऑनलाईन वेबीनार का आयोजन १७ फ़रवरी को प्रयागराज […]

विद्यार्थियों और अध्यापनकर्म करनेवालों के लिए अत्युपयोगी कर्मशाला सम्पन्न

August 1, 2021 0

•••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••••आज (१ अगस्त) की भाषा-व्याकरण-भाषाविज्ञान-साहित्य-विषयक आन्तर्जालिक कर्मशाला सभी के लिए उपयोगी रही। हिन्दीकवि और गीतकार नीतेश मिश्र जी प्रश्नकर्त्ता की भूमिका में रहे। सहभागियों का उत्साह और सीखने-जानने-समझने के प्रति ललक अनुकरणीय रही। सहभागी इतने […]

प्रयोजनमूलक हिंदी के परिप्रेक्ष्य में प्रोफेसर सूर्य प्रसाद दीक्षित के प्रदेय पर अन्तर्जालीय अनुष्ठान आयोजित

December 25, 2020 0

भाषा शिक्षण संस्थान हाजीनगर (कलकत्ता), अन्तरराष्ट्रीय भाषा संस्थान सूरत द्वारा प्रायोजित और लखनऊ विश्वविद्यालय तथा ‘इंदु संचेतना’एवं भाखा के संयुक्त तत्त्वावधान में प्रयोजनमूलक हिंदी के परिप्रेक्ष्य में प्रोफेसर सूर्य प्रसाद दीक्षित के प्रदेय पर अन्तर्जालीय […]

‘सर्जनपीठ’, प्रयागराज का आन्तर्जालिक राष्ट्रीय बौद्धिक परिसंवाद

December 21, 2020 0

आचार्य पं० महावीर प्रसाद द्विवेदी हिन्दी-आलोचना के प्रथम प्रणेता थे । बौद्धिक, शैक्षिक, साहित्यिक, सांस्कृतिक मंच ‘सर्जनपीठ’, प्रयागराज के तत्त्वावधान में द्विवेदी-युग के प्रवर्तक आचार्य पं० महावीर प्रसाद द्विवेदी की निधनतिथि २१ दिसम्बर के अवसर […]

‘सर्जनपीठ’ और ‘साहित्यांजलि प्रज्योदि’ के संयुक्त तत्त्वावधान में आयोजित बौद्धिक परिसंवाद

September 16, 2020 0

जीवन जीने की कला सिखाती हिन्दी ‘भाषारस-गागरी’ समारोह के अन्तर्गत पिछले तीन दिनों से ‘सारस्वत सभागार’, लूकरगंज, प्रयागराज में आयोजित हो रहे विविध कार्यक्रमों का समापन १६ सितम्बर के बौद्धिक परिसंवाद-कार्यक्रम ‘पठन-पाठन में हिन्दी-भाषा की […]

हिन्दी हमारे भावों की भाषा हैं : डॉ. राजीव शुक्ला

September 16, 2020 0

तन्मय मुखर्जी, लखनऊ 14 सितंबर हिंदी दिवस का आयोजन ऑनलाइन विद्यांत हिन्दू स्नातकोत्तर महाविद्यालय के विद्यार्थी समूह द्वारा आयोजित किया गया। कार्यक्रम का संयोजन डॉ ब्रजेश श्रीवास्तव डॉ सुरभि शुक्ला एवं डॉ श्रवण गुप्ता द्वारा […]

‘फ़िराक़ गोरखपुरी और उनका जीवन-दर्शन’ विषयक राष्ट्रीय बौद्धिक परिसंवाद २८ अगस्त को

August 25, 2020 0

शाइरे आज़म रघुपति सहाय ‘फ़िराक़ गोरखपुरी’ की जन्मतिथि (२८ अगस्त) के अवसर पर ‘सर्जनपीठ’, प्रयागराज के तत्त्वावधान में ‘फ़िराक साहिब और उनका जीवन-दर्शन’ विषयक एक आन्तर्जालिक राष्ट्रीय बौद्धिक परिसंवाद का आयोजन किया जायेगा। आयोजक आचार्य […]

‘सर्जनपीठ’, प्रयागराज का सक्रिय आन्तर्जालिक राष्ट्रीय बौद्धिक परिसंवाद-कार्यक्रम सम्पन्न

August 7, 2020 0

★ कोरोना-काल में फ़ीस लेने का कोई औचित्य नहीं इन दिनों कोरोना से सम्पूर्ण जनजीवन दुष्प्रभावित हो चुका है। शिक्षणसंस्थानों में अध्ययन- अध्यापन स्थगित है। माता-पिता और अभिभावक कोरोना की मार से असहाय-से दिख रहे […]

‘पढ़ाई नहीं तो फ़ीस नहीं’ विषयक सक्रिय आन्तर्जालिक राष्ट्रीय परिसंवाद ७ अगस्त को

August 4, 2020 0

कोरोना ने औसत भारतीय की कमर तोड़ दी है; आर्थिक स्थिति जर्जर हो चुकी है। लाखों लोग की नौकरियाँ छिन चुकी हैं। शिक्षण संस्थानों की ओर से सक्रिय आन्तर्जालिक पढ़ाई कराने की बात की जा […]

‘बेबिनार’ का प्रयोग कर, भाषिक वातावरण विषाक्त करनेवालो! उत्तर दो

June 9, 2020 0

आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय न्यूइण्डिया के उन लोग के नाम एक विश्व-कीर्तिमान है, जो स्वयं को ज़रूरत से ज़्यादा पढ़ा-लिखा मानते और समझते हैं; और वह है, नक़्लची बनने का। दूसरी ओर, ‘भारत’ की मिट्टी […]