सई नदी की करुण कथा : पौराणिक और ऐतिहासिक नदी मर रही है

आपदा या विषम परिस्थितियों में मानव की सेवा करना ही भारतीय रेड क्रॉस सोसाइटी का प्रमुख उद्देश्य

मानवता की सेवा करना ही मानव धर्म है। किसी भी प्रकार की आपदा या विषम परिस्थितियों में मानव की सेवा करना ही भारतीय रेड क्रॉस सोसाइटी का प्रमुख उद्देश्य है। रेड क्रॉस एक अंतर्राष्ट्रीय संस्था है जिसके मूल में पीड़ित मानवता की सेवा ही हमारा धर्म है। उक्त विचार डॉक्टर रमेश अग्रवाल ने विश्व रेडक्रॉस दिवस पर रेड क्रॉस भवन में आयोजित विचार गोष्ठी के अवसर पर व्यक्त किए।

इस अवसर पर विभिन्न विद्यालयों के बच्चों के बीच “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ” विषय पर पेंटिंग प्रतियोगिता, “स्वच्छता अभियान” पर कोलाज प्रतियोगिता तथा “सड़क सुरक्षा- आदर्श नागरिक का दायित्व” विषय पर स्लोगन प्रतियोगिता संपन्न हुई। पेंटिंग प्रतियोगिता में उदिता पटेल, ऋषभ सिंह तथा इशु ने क्रमशः प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त किया। कोलाज में उदिता पटेल प्रथम व विधि त्रिवेदी द्वितीय स्थान पर रहीं। स्लोगन प्रतियोगिता में साक्षी सिंह प्रथम, समीक्षा द्वितीय, निशि तेजमान तृतीय व ज्योति,सुरभि को सांत्वना पुरस्कार प्राप्त हुआ। विजेता प्रतिभागियों को डॉक्टर जे के वर्मा द्वारा पुरस्कार प्रदान किया गया। कार्यक्रम का संचालन सचिव आलोक श्रीवास्तव ने किया।

विश्व रेडक्रॉस दिवस के पर डॉक्टर सुरेश अग्निहोत्री, अनिल श्रीवास्तव, हरगोविंद सेठी, राकेश पांडेय ने भी अपने विचार व्यक्त किए। इसी के बाद रेड क्रॉस प्रबंध समिति की बैठक भी संपन्न हुई जिसमे अनुराग श्रीवास्तव, विशाल गुप्ता तथा वरिष्ठ एडवोकेट राम अवतार शुक्ला ने आजीवन सदस्यता ग्रहण की। इस अवसर पर अनिल गुप्ता महादेव मिठाई भंडार ने प्रतिमाह 1000 रुपए संस्था को देने की घोषणा की। रविशंकर शुक्ला ने सभी के प्रति आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर अविनाश गुप्ता, जोगिंदर गांधी, एम डी गुप्ता, डॉक्टर नसीम, अनिल सिंह, करुणाशंकर द्विवेदी, श्याम जी गुप्ता, कुलदीप द्विवेदी, सरिता अग्रवाल, संगीता श्रीवास्तव, राज चौहान सहित भारी संख्या में बच्चे तथा अभिभावक मौजूद थे।

-अंतर्ध्वनि एन इनर वॉइस