किसानों को गेहूं केन्द्र तक लाना किसान सहायक की जिम्मेदारी – पुलकित खरे

अच्छा कार्य न करने वाले किसान सहायकों पर कार्यवाही करें :- जिलाधिकारी

              विकास भवन सभागार में आयोजित कृषि विभाग के कार्यो की समीक्षा करतेह हुए जिलाधिकारी पुलकित खरे ने कहा कि गांव के किसानों को कृषि सम्बन्धी समस्त जानकारी देना किसान सहायकों की जिम्मेदारी है। उन्होने कहा कि किसान सहायक अपने क्षेत्र के प्रगतिशील एवं अन्य तरह के किसानों को कृषि विभाग से जोड़ें तथा विभाग से मिलने वाली सुविधाओं की जानकारी दें ।
             जिलाधिकारी ने कहा कि गावं के मछली पालक, पशु पालक, उद्यान एवं अन्य प्रकार की खेती करने वालों को किसान होने वाले मेले व गोष्ठियों में लाये ताकि उन्हें कृषि विभाग से मिलने वाली कृषि यंत्र, खाद, बीज,बरमी काम्पोस्ट, पशुओं के टीकाकरण आदि की सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त हो सके । उन्होने किसान सहायकों को निर्देश दिये कि गेहूं खरीद केन्द्र निर्धारित कर दिये गये है और 01 अप्रैल2018 से गेहूं खरीद प्रारम्भ कर दी जायेगी ।
            श्री खरे ने कहा कि गांव के किसानों को गेहूं खरीद केन्द्र तक लाने की जिम्मेदारी किसान सहायकों की होगी तथा किसान सहायक खरीद केन्द्रों पर बोरे, कांटा, रजिस्टर तथा किसानों के पेयजल एवं छाया आदि की व्यवस्था देखेंगें और जिस गेहूं खरीद पर जो कमियां पायेगें उसे ठीक करायेगें । जिलाधिकारी ने कहा किसान मित्र गांव के किसानों के हित में कार्य करें और उनकी हर गतिविधि की जानकारी रखें ।
जिलाधिकारी ने उप निदेशक कृषि आशुतोष कुमार मिश्र को निर्देश दिये कि किसान सहायकों की प्रतिमाह बैठक कर उनके कार्यो की समीक्षा करें तथा अच्छा कार्य न करने वाले किसान सहायकों पर कार्यवाही करें । उन्होने कहा कि इनके साथ विभाग में कार्यरत एटीएम व बीटीएम को भी गांव के किसानों के प्रति सक्रिय किया जायें ।
              बैठक में मुख्य विकास अधिकारी आनन्द कुमार, जिला कृषि अधिकारी डा0विनोद कुमार यादव, सहायक निदेशक सूचना कुमकुम शर्मा सहित अन्य संबंधित अधिकारी तथा किसान सहायक आदि मौजूद रहें ।
url and counting visits