ट्रैक पर लेटी महिला को प्वांटमैन नें दिलेरी दिखाते हुए बचाया

हरदोई– संतान न होनें के चलते पति की प्रताड़ना से परेशान महिला आत्महत्या के इरादे से एक्सप्रेस ट्रेन के आगे लेट गयी तभी प्वांइटमैन ने उसे देख लिया और अपनी जान की परवाह न करते हुए उसने तेज रफ्तार ट्रेन के आगे दौड़ लगाते हुए महिला को ट्रैक से खींचकर उसकी जान बचाई और डायल हंड्रेड को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस नें महिला को हिरासत मे लिया है। प्वांइटमैन की दिलेरी की लोग प्रशंसा कर रहे हैं।
 कोतवाली कासिमपुर के बेंहदर ब्लाक के गाॅव तलौली निवासिनी महिला राम प्यारी (40)पत्नी कैलाश ने बताया कि उसके बच्चे नही हुऐ है जिसके लिये पति आये दिन प्रताडित कर मारापीटा करता है और घर से भी निकल जाने को कहता है।इसी बात से परेशान राम प्यारी ने बुधवार सुबह बस द्वारा मल्लावाॅ पहुची और स्टेशन पर पहुच कर आत्महत्या करने के लिये ट्रेन का इंतजार करने लगी। दोपहर जम्मू से चलकर कानपुर की ओर जा रही गाडी नंम्बर 12470 जम्मूतवी एक्सप्रेस स्टेशन के निकट गुजरने वाली थी तभी महिला आत्महत्या करने के लिये ट्रैक पर लेट गयी। गेट नम्बर 56सी पर तैनात प्वांटमैन दिवाकर कुशवाहा ने महिला को देखा तो वह महिला की मंशा समझ गया जिसके बाद उसने बहादुरी दिखाते हुऐ सामने आ रही ट्रेन के सामने ट्रैक पर दौड़ लगा दी और पास जाकर महिला को खींचकर उठाया और ट्रैक से दूर ले गया । इस दौरान जैसे ही महिला को उसने खींचा ट्रेन गुजर गई। जिसके बाद उसनें डायल हंड्रेड को सूचना दी जिसपर पहुची हंड्रेन ने महिला को हिरासत मे लेकर कोतवाली ले गयी।प्रभारी कोतवाल विजय प्रताप सिंह ने बताया कि महिला के पति को सूचना की गयी है।महिला के शादी के तेरह वर्ष हो गये और बच्चे न होने से पति प्रताडित करता है जिसके चलते आत्महत्या करने का प्रयास किया है।


प्वांटमैन की दिलेरी को सभी नें सराहा


प्वांटमैन दिवाकर कुशवाहा नें जिस दिलेरी और फुर्ती से महिला को तेज रफ्तार ट्रेन के आगे से बचाया उसकी सभी तारीफ कर रहे हैं। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार यदि प्वांटमैन नें सजगता और दिलेरी न दिखाई होती तो निश्चित ही महिला की जान चली गयी होती।
url and counting visits