हर घर शौचालय के दावे के बीच खुले में शौच गयी महिला की तालाब में डूबने से मौत

हरदोई– कोतवाली क्षेत्र कछौना के अंतर्गत ग्राम बेरुवा में हर घर शौचालय के दावे के बीच खुले में शौच गयी महिला की तालाब में डूबने से मौत हो गयी। घटना रविवार की सुबह की है। एक ओर जहाँ घटना से परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है, वहीं दूसरी ओर इस तरह की घटनाएँ स्वच्छ भारत अभियान और सबको शौचालय योजना पर सवाल भी खड़े करती हैं।

कोतवाली कछौना की ग्राम सभा बेरुआ में नईम की 20 वर्षी पत्नी आफरीन रविवार की सुबह खुले में शौच को गई थी। इसी दौरान गांव के उत्तर दिशा में स्थित तालाब में पैर फिसलने से डूबकर मृत्यु हो गई। इस घटना से परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। बताते चले बरसात के मौसम में क्षेत्र के तालाब पोखर गड्डों में पानी लबालब भर गया है। थोड़ी सी चूक पर व्यक्ति के साथ अनजाने में अनहोनी घटना घट जाती है। जिसका खामियाजा परिवार को उठाना पड़ता है। नईम की नौ माह पूर्व बांगरमऊ की आफरीन से शादी हुई थी। थोड़ी सी चूक से परिवार की खुशियां काफूर हो गई। परिजनों की सूचना पर कछौना पुलिस, राजस्व टीम मौके पर पहुंचकर जानकारी ली। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु जिला मुख्यालय भेज दिया है।