सई नदी की करुण कथा : पौराणिक और ऐतिहासिक नदी मर रही है

हिंसा से कुछ हासिल नहीं हो सकता : महबूबा मुफ्ती

सुरक्षाबलों और स्‍थानीय प्रदर्शनकारियों के बीच झड़पों के दौरान गोलियां लगने के कारण तीन युवकों की भी मृत्‍यु

जम्‍मूकश्‍मीर के बडगाम जिले में राज्‍य पुलिस तथा सेना द्वारा शुरू किया गया संयुक्‍त आतंकवाद रोधी अभियान समाप्‍त हो गया है। क्षेत्र में आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में  सूचना के आधार पर सुरक्षा बलों ने इलाके की घेराबंदी और तलाशी अभियान शुरू किया था जिसके बाद आज सवेरे आतंकवादियों के साथ झड़प शुरू हुई। करीब दस घंटे की लंबी कार्रवाई में दक्षिण कश्‍मीर के बडगाम जिला का स्‍थानीय लश्‍कर मिलटेंट मारा गया, जबकि एक सैनिक को भी चोटें आई। द्रुबुग चाडुरा बडग्राम में भुठभेड़ स्‍थल के निकट सुरक्षाबलों और स्‍थानीय प्रदर्शनकारियों के बीच झड़पों के दौरान गोलियां लगने के कारण तीन युवकों की भी मृत्‍यु हो गई। जिनमें दो बडगाम और एक श्रीनगर का निवासी था। इसके अलावा करीब 14 अन्‍य नागरिक भी घायल हो गये।

दूसरी ओर जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने मुख्य धारा में शामिल होने के इच्छुक स्थानीय आतंकवादियों से कहा है कि वे हथियार छोड़ दें, क्योंकि हिंसा से कुछ हासिल नहीं हो सकता। दक्षिणी कश्मीर में एक चुनावी रैली में उन्होंने कहा कि राज्य में वर्षों से जारी हिंसा से केवल लोगों की जान गई है।