मतदान आपकी जिम्मेदारी, ना मज़बूरी है। मतदान ज़रूरी है।

आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला

आइए! ‘उत्तरप्रदेश लोक सेवा आयोग’ के अधिकारियों की पीठ थपथपायें

देश के समस्त प्रतियोगी विद्यार्थिवृन्द!
अत्यन्त गर्व और गौरव का विषय है कि ‘उत्तरप्रदेश लोक सेवा आयोग’, प्रयागराज की ओर से आज (५ दिसम्बर) उत्तरप्रदेश के बाईस (२२) नगरों में आयोजित की गयी समीक्षा-सहायक समीक्षाधिकारी-परीक्षा– २०२१ के ‘सामान्य हिन्दी’-विषय के प्रश्नपत्र में दिये गये साठ (६०) प्रश्नों में से कम-से-कम पाँच (५) प्रश्न ऐसे हैं, जिनके सभी विकल्प अशुद्ध हैं। इसके अतिरिक्त अन्य अशुद्धियाँ भी हैं, जिन्हें अपने विद्यार्थियों के हित में ७ दिसम्बर को समाचारपत्रों तथा अन्य माध्यम से सप्रमाण सार्वजनिक किया जायेगा।

(सर्वाधिकार सुरक्षित– आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय, प्रयागराज; ५ दिसम्बर, २०२१ ईसवी।)