मतदान आपकी जिम्मेदारी, ना मज़बूरी है। मतदान ज़रूरी है।

आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला

◆ निम्नांकित वाक्यों/वाक्यांशों को शुद्ध करें :–
१- फुलों का विकसित होने से।
२- गाड़ी से तीन सवारी गिरा।
३- शपथनी का कथन।
४- पौधरोपण की।
५- उसने श्राप दी।
६- महिला कार्यकर्ता आते।

शुद्ध उत्तर हैं :–
(१) कलियों के विकसित होने से (कली ही खिलकर ‘फूल’ का रूप धारण करती है; फूल कभी नहीं खिलता।)
(२) गाड़ी से तीन सवार गिरे। (जो वाहन/सवारी में बैठता है, उसे ‘सवार’ कहते हैं। उदाहरणार्थ– गाड़ी में कितने लोग ‘सवार’ हैं?)
(३) शपथकर्त्री का कथन। (‘शपथनी’ और ‘शपथिनी’ अशुद्ध शब्द हैं।)
(४) पौधारोपण किया। (‘पौध’ का अर्थ ‘उपज’ और ‘उत्पत्ति’ है।)
(५) उसने शाप दिया।
(६) कार्यकर्त्री आतीं।

(सर्वाधिकार सुरक्षित– आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय, प्रयागराज; ६ सितम्बर, २०२१ ईसवी।)