संजय सिंह, सांसद, आप ने पेयजल एवं स्वच्छता मिशन पर उठाए सवाल! | IV24 News | Lucknow

भ्रष्टाचार का आरोप लगाकर विश्व हिंदू परिषद ने भाजपा जिलाध्यक्ष के खिलाफ पास किया निंदा प्रस्ताव

विहिप कार्यालयाध्यक्ष इंद्रपाल वर्मा का आरोप भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीकृष्ण शास्त्री ने जिलाध्यक्ष बनने के बाद से लगातार सपा नेताओं को फायदा पंहुचाने का किया काम


         भाजपा जिलाध्यक्ष पर भ्रष्टाचार, अन्य पार्टियों के लिए काम करने व सपा नेताओं को फायदा पंहुचाने के लिए भाजपा के मंडल अध्यक्षों को पद से बाहर निकालकर सपाई मानसिकता के लोगो की पद पर नियुक्ति को लेकर विश्व हिंदू परिषद की एक आपात बैठक मल्लावां के कृष्णा गेस्ट हाउस में बुलाई गई। बैठक में विश्व हिंदू परिषद के पदाधिकारियों द्धारा  भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीकृष्ण शास्त्री पर भ्रष्टाचार कर पार्टी को नुकसान पंहुचाने के लिए सपा नेताओं से मिले होने का गंभीर आरोप लगाकर निंदा प्रस्ताव लाया गया।

            भाजपा जिलाध्यक्ष पर भ्रष्टाचार करने के आरोप के सम्बन्ध में पेश किए गए निंदा प्रस्ताव को सर्वसम्मति से पास कर दिया गया। निंदा प्रस्ताव पास कर बिहिप पदाधिकारियों ने भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीकृष्ण शास्त्री को आजीवन पार्टी से निकालकर किसी ईमानदार कार्यकर्ता को जिलाध्यक्ष बनाये जाने की मांग की है। इस सम्बंध में जानकारी देते हुए विहिप कार्यालयाध्यक्ष इंद्रपाल वर्मा ने बताया कि भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीकृष्ण शास्त्री ने जिलाध्यक्ष बनने के बाद से लगातार सपा नेताओं को फायदा पंहुचाने का काम किया है जिससे पार्टी की छवि लगातार जनता में खराब हो रही है। बकौल इंद्रपाल वर्मा भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीकृष्ण शास्त्री ने अपने जिलाध्यक्षी के 6 महीने के कार्याकाल में ही करोड़ो रूपये भ्रष्टाचार करके कमाएं है। श्री वर्मा ने आगे बताया कि जिलाध्यक्ष के पास 6 महीने पहले एक पुरानी मोटरसाइकिल थी और अब वह भ्रष्टाचार के जरिये लग्जरी गाड़ी के मालिक बन गए है तथा उनके घर मे मौजूद लग्जरी सुविधाएं उनके भ्रष्टाचार की कहानी खुद बयान कर रही है। श्री वर्मा ने बताया कि विहिप पदाधिकारियों के निंदा प्रस्ताव से प्रदेश अध्यक्ष भाजपा, संगठन मंत्री ब्रजबहादुर सिंह, मुकुट बिहारी, महेन्द्रनाथ पांडेय, महेंद्र सिंह, सहित अन्य शीर्ष नेतृत्व को भी अवगत करा दिया गया है।