ब्लॉक कोथावां में वोटर लिस्टों की बिक्री के नाम पर हो रही अवैध वसूली

मजबूत लोकतंत्र के लिए मतदान करना अति आवश्यक

कलेक्ट्रेट परिसर में आयोजित मतदाता जागरुकता अभियान का शुभारम्भ जिलाधिकारी पुलकित खरे ने ‘हरदोई ने भरी उड़ान, 29 अप्रैल को करें मतदान’ एवं मतदान हेल्प लाइन 1950 के बोर्ड से पर्दा हटाकर एवं स्काउट गाइड को हरी झण्डी दिखाकर किया।

इस अवसर पर जिलाधिकारी ने स्काउट्स और गाइड के बच्चों की प्रशंसा करते हुए कहा कि जिस तरह से बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ, यातायात जागरुकता एवं अन्य कार्यक्रमों में स्काउड गाइड ने अपनी भूमिका निभायी है उसी तरह अब आप सभी को शहर एवं गांवों में जाकर लोगों को अधिक से अधिक मतदान के लिए जागरुक करना है । आप को बताना है कि मजबूत लोकतंत्र के लिए मतदान करना अति अवश्यक है । इसलिए सभी मतदाता 29 अप्रैल 2019 को अपना वोट जरूर डालने जायें।

उन्होने कहा कि अब तक जनपद में मतदान का प्रतिशत काफी कम रहा है, इसलिए बच्चे लोगों को बतायें कि अगर वो किसी पार्टी को वोट नहीं करना चाहते है फिर भी वह अपने मतदान केन्द्र पर जाकर नोटा को वोट करें। उन्होंने कहा कि लोगों को जागरुक करते समय उनकी कलाई पर लोकतंत्र रक्षा सूत्र अवश्य बांधें और बतायें कि यह रक्षा सूत्र अधिक से अधिक मतदान करने हेतु बांधा जा रहा है तथा यह रक्षा सूत्र मतदान करने के उपरान्त ही खोलें।

जिलाधिकारी ने उपस्थित स्काउट्सऔर गाइड, कलेक्ट्रेट एवं विकास भवन के अधिकारियों/कर्मचारियों को शपथ दिलाते हुए कहा कि आपका मतदान लोकतंत्र की जान है । इसलिए समस्त नागरिक लोकतंत्र में अपनी पूर्ण आस्था रखते हुए अपने देश की लोकतांत्रिक परम्पराओं की मर्यादा को बनाये रखेंगें । स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण निर्वाचन की गरिमा अक्षुण्ण रखते हुए निर्भीक होकर धर्म, वर्ग, जाति समुदाय, भाषा अथवा अन्य किसी भी प्रलोभन से प्रभावित हुए बिना सभी निर्वाचनों में अपने मताधिकार का प्रयोग करेगें। उन्होंने स्काउड गाइड के बच्चों से कहा कि गांवों में बतायें कि अगर किसी का वोटर कार्ड नहीं बना है तो वह 17, 24 एवं 31 मार्च 2019 को अपने बूथ पर जाकर फार्म भरवा कर वोटर कार्ड बनवा सकते हैं । इसके अलावा वोटर-लिस्ट में नाम है या नहीं इसकी जानकारी टोल फ्री नम्बर 1950 पर सम्पर्क कर जानकारी की जा सकती है।

इस अवसर पर स्काउड गाइड की बालिकाओं ने जिलाधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी, अतिरिक्त मजिस्ट्रेट, डीडी कृषि, जिला बेसिक शिक्षाधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक एवं अधिकारियों को भी रक्षा सूत्र बांधा।

url and counting visits