सई नदी की करुण कथा : पौराणिक और ऐतिहासिक नदी मर रही है

हम पाकिस्‍तान की हरकत का माकूल जवाब देगें ?

रक्षा मंत्री अरूण जेटली ने कहा है कि हम पाकिस्‍तान की हरकत का माकूल जवाब देगें । ज्ञात हो कि जम्मू-कश्मीर के पुंछ सेक्टर की कृष्णा घाटी में कल भारतीय सीमा में घुसकर पाकिस्तानी सेना और उसकी बॉर्डर एक्शन टीम (बैट) ने सेना और बीएसएफ के एक-एक जवान परमजीत सिंह और प्रेम सागर की हत्या कर शव क्षत-विक्षत कर दिया था । भारतीय सशस्‍त्र बल अपने दो जवानों की हत्‍या और उनके शवों को क्षत-विक्षत करने की वहशियाना कारगुजारी को ऐसे ही नहीं भुला देगा । उनका कहना है कि जवानों का बलिदान व्‍यर्थ नहीं जाएगा । मीडिया से नई दिल्‍ली में बातचीत में श्री जेटली ने जवानों के शवों के साथ क्रूरता को निंदनीय और अमानवीय बताया । इस घटना की निंदा करते हुए उन्‍होंने कहा कि जवानों के शवों को क्षत-विक्षत करना बर्बरता है ।

ये काम नापाक पड़ोसी देश का है । ऐसी अमानवीय हरकतें तो युद्ध में भी नहीं होती हैं और शांति में तो कभी भी नहीं । भारत सरकार इसकी भर्त्सना करती है । पूरे देश को हमारी सेना और फौज के ऊपर पूरा भरोसा है । हमारे दो सिपाहियों की ये बलिदानी व्‍यर्थ नहीं जाएगी । सेना ने पाकिस्‍तान की इस घिनौनी हरकत का माकूल जवाब देने की चेतावनी दी है । सेना ने एक बयान में कहा कि पाकिस्‍तानी सेना ने गश्‍त पर तैनात दो जवानों के शवों को क्षत-विक्षत किया । पाकिस्‍तानी सेना ने कृष्‍णा घाटी सेक्‍टर में नियंत्रण रेखा के नजदीक दो सीमा चौकियों पर बिना किसी उकसावे के रॉकेट और मोर्टार दागे । इसी दौरान पाकिस्‍तान बॉर्डर एक्‍शन टीम ने भी इन चौकियों पर गश्‍त कर रहे जवानों को निशाना बनाया ।