आप सब पाठकों-दर्शकों को नवरात्र के पावन पर्व की शुभकामना

हिन्दी हमारे भावों की भाषा हैं : डॉ. राजीव शुक्ला

तन्मय मुखर्जी, लखनऊ

14 सितंबर हिंदी दिवस का आयोजन ऑनलाइन विद्यांत हिन्दू स्नातकोत्तर महाविद्यालय के विद्यार्थी समूह द्वारा आयोजित किया गया।

कार्यक्रम का संयोजन डॉ ब्रजेश श्रीवास्तव डॉ सुरभि शुक्ला एवं डॉ श्रवण गुप्ता द्वारा किया गया जिसमें विद्यांत हिंदी परिसद एवं विद्यांत कॉमर्स कौंसिल का विशेष योगदान रहा।कार्यक्रम की अध्यक्ष प्रोफेसर धर्म कौर, मुख्य वक्ता डॉ राजीव शुक्ला एवं विशिष्ट वक्ता डॉ दिलीप अग्निहोत्री ने हिंदी को मजबूत स्थिति प्रदान करने हेतु अपना वक्तव्य दिया। संचालन डॉ श्रवण गुप्ता ने किया। महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं ने कविता ,नाटक के माध्यम से अपने विचार व्यक्त किये।

मुख्य वक्ता डॉ राजीव शुक्ला ने कहा कि हम अपने विचारों को जितनी सहजता से अपनी मातृभाषा में व्यक्त कर सकते हैं उतना किसी अन्य भाषा मे नहीं कर सकते। विशिष्ट वक्ता डॉ दिलीप अग्निहोत्री ने अपने विशेष अंदाज़ में हिंदी की संवैधानिक स्थिति और उस पर होने वाली राजनीति की चर्चा की।

कार्यक्रम में कॉलेज के प्रबंधक श्री शिवशीष घोष, अमित वर्धन, डॉ बी बी यादव, डॉ मनीष हिंदवी, डॉ आलोक भारद्वाज, डॉ अभिषेक वर्मा, डॉ सावित्री त्यागी, कृष्ण कुमार शुक्ला, आशुतोष शर्मा, दिवाकर शर्मा, क्षितिज अग्निहोत्री, आदर्श तिवारी, मयंक सिंह, शिवानी कनौजिया, ऋषभ रंजन, अभिनव चौधरी, मानस मिश्रा, सौम्या कश्यप, अंकित कनौजिया, हिमांशु शर्मा, एवं अन्य विद्यार्थी उपस्थित रहे।

url and counting visits