माधोगंज कस्बे में फिर क्षतिग्रस्त की गईं भगवान की मूर्तियां, एक माह में तीसरी बार हुई घटना से लोगों में आक्रोश

                       माधौगंज में अराजक तत्वों ने एक माह में तीसरी बार पुलिस को चुनौती देते हुए मंदिरों में स्थित मूर्तियां क्षतिग्रस्त कर दीं। घटना के बाद तनाव को देखते हुए पुलिस ने सौहार्दपूर्ण माहौल को कायम रखने के लिए लोंगों से सहयोग मांगा। मंदिरों की सुरक्षा के लिए पुलिस का साथ मंदिर कमेटी के लोग देंगे। सुरक्षा व्यवस्था के लिए विभिन्न संगठन के कार्यकर्ता व बुजुर्ग आगे आए। पुलिस के आला अफसरों से अराजक तत्वों को गिरफ्तार करने की मांग की।
             गुरुवार की रात कस्बे के मोहल्ला गोखले नगर में माँ फूलमती मंदिर, पटेल नगर पूर्वी में बड़े मंदिर,हरदेव राजा मंदिर, पश्चिमी पटेल नगर के बूढ़े बाबा मंदिर स्थित मूर्तियों की आंखों व धड़ों को अलग कर खंडित कर दी गईं। जिससे लोंगों में आक्रोश व्याप्त हो गया। यह मामला पहली बार नही हुआ है इससे पहले भी मूर्तियों को क्षतिग्रस्त कर देने की घटनाएं हो चुकी है। एक माह में तीसरी बार हुई चार मंदिरों में एक साथ घटना को लेकर विश्व हिंदू परिषद, बजरंग दल सहित कस्बे के लोंगों में गुस्सा उमड़ने लगा। मंदिरों पर लोंगों की बढ़ती भीड़ को देखते हुए पुलिस ने मूर्तियों को बंदन से पुतवा दिया। इधर लोंगों में पनपे आक्रोश की सूचना जब एसपी अलोक प्रियदर्शी को हुई तो उनके साथ एडिशनल एसपी धनंजय सिंह, एसडीएम सतेंद्र सिंह, सीओ प्रताप सिंह सहित भारी पुलिसबल के साथ मौके का जायजा लेने पहुँचे। मंदिरों की क्षतिग्रस्त मूर्तियों की जांच के लिए फारेंसिस टीम के प्रभारी पीएस वर्मा व मुकेश वर्मा टीम के साथ घटना स्थल पर पहुँचकर फिंगर प्रिंट लिए। एसपी ने थाने में बैठक कर मौके पर मौजूद पूर्व विश्वहिंदू परिषद के रामकुमार त्रिपाठी, पूर्व चेयरमैन हनुमान प्रसाद अग्रवाल, पूर्व चेयरमैन पति उमेश माहेश्वरी, जिला पंचायत सदस्य रवि वर्मा,बजरंग दल जिला अध्यक्ष  विनीत वर्मा, विहिप के राजेश वर्मा,आनंद कुमार, सभासद अमित गुप्ता ,बुद्धा ,अनूप , रामू मिश्रा व  अन्य लोंगो के बीच बैठक कर मंदिरों की सुरक्षा व्यवस्था के लिए सहयोग मांगा। लोंगों ने अधिकारियों से कहा कि अराजकतत्वों को गिरफ्तार कर उन पर जल्द कार्रवाई की जाए। जिस पर एसपी ने कहा कि मूर्ति तोड़ने वालों को बक्शा नही जाएगा और हर हाल में उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा।

एक माह में तीसरी बार हुई घटना

एक माह में हुई तीसरी घटना से लोंगों में आक्रोश व्याप्त हो गया है। लोंगों का कहना है कि बीजेपी सरकार में मंदिर तोड़े जा रहे है जनप्रतिनिधियों ने एक बार भी इस मामले पर चिन्ता नही जाहिर की। नही घटनास्थल पर पहुच कर मामले को संज्ञान में लेना उचित नही समझा। मंदिरों की मूर्तियों के क्षतिग्रस्त होने के बाद पुलिस ने हनुमान की मूर्तियों को बंदन से पुतवा दिया।


बोले एसपी

एसपी आलोक प्रियदर्शनी ने कहा कि मंदिरों की मूर्तियों को खंडित करके अराजकतत्व सौहार्दपूर्ण माहौल को खराब करने की कोशिश करने वालों को किसी भी हालत में बख्सा नही जाएगा। मंदिरों पर पिकेट डियूटी लगाकर उनकी सुरक्षा व्यवस्था को चाक चौबंद किया जाएगा।

कस्बे के फूलमती मंदिर में स्थापित मूर्ति की आंख निकाले जाने की घटना एक माह पहले हुई थी। जिसके बाद लगातार अराजकतत्वों ने पुलिस को चुनौती देते हुए तीसरी बार चार मंदिरों की मूर्तियों को क्षतिग्रस्त कर दिया। लोंगों में चर्चा है कि यदि पुलिस पहले ही अराजकतत्वों को चिन्हित कर कार्रवाई करती तो ऐसी घटना घटित करने की अराजकतत्वों में हिम्मत नही पड़ती।
url and counting visits