मतदान आपकी जिम्मेदारी, ना मज़बूरी है। मतदान ज़रूरी है।

दहेज हत्या में कार्यवाही न होने से नाराज लोगों ने सड़क पर शव रखकर लगाया जाम

           अग्नि को साक्षी मानकर जिसकी मांग में सिंदूर भरकर सात जन्मों का साथ निभाने की कसम खाकर फेरे लेने वाले पति ने ही शादी के दो साल बाद ही उसी की गला दबाकर हत्या कर दी और परिवार के अन्य सदस्यों के साथ भाग निकला।इस वारदात को उसने अंजाम महज एक कार के लिए दे डाला।हालांकि ससुराल की इकलौती लड़की होने के चलते ससुराली जन दहेज में कार देने की बाद दीपावली के बाद की थी लेकिन दहेज लोभियों को आठ दिन का समय लंबा लगा और इस वारदात को अंजाम देकर भाग निकले।

मामला हरदोई के सुरसा थाना क्षेत्र का है।थाना क्षेत्र के जगतपुरवा निवासी अच्छेलाल की पत्नी आरती  25 का शव घर के अंदर फांसी पर लटकता मिला।खबर मिलने पर खलबली मच गई। बिलग्राम कोतवाली क्षेत्र के दुधैला मजरा परचल निवासी मृतका के भाई हरीराम ने दहेज हत्या का आरोप लगाया है। उसका कहना है कि आरती का पति अच्छेलाल और उसका भाई पंकज और बबले दहेज के लिए आए दिन परेशान करते रहते थे और उन्हीं लोगों ने मारपीट कर लटका दिया और भाग निकले।पुलिस ने मामले की रिपोर्ट दर्ज कर ली है और हत्यारों की तलाश शुरू कर दी है।नाराज परिजनों ने सिनेमा चौराहे पर शव रखकर जाम लगा दिया।पुलिस के काफी समझाने के बाद परिजनों ने सड़क से शव हटाया।