मतदान आपकी जिम्मेदारी, ना मज़बूरी है। मतदान ज़रूरी है।

सपा, बसपा औरकांग्रेस ने सूबे को सिर्फ बर्बाद किया : डिप्टी सीएम

सपा बसपा कांग्रेस ने पर्दे के पीछे अराजकता को अंजाम दिया और मैं एससी-एसटी आंदोलन की निंदा करता हूँ

               जिले में पहुंचे यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने सपा-बसपा गठबंधन पर निशाना साधा है । केशव प्रसाद मौर्य ने इस गठबंधन की वजह पीएम मोदी की बढ़ती लोकप्रियता को बताया है । कहाकि मोदी की लोकप्रियता से घबराकर सपा और बसपा को गठबंधन के लिए विवश होना पड़ा । उन्होंने कहा कि दोनों दलों में पीएम मोदी को लेकर इतनी घबराहट है कि दोनों अपनी पार्टी के सभी सिद्धान्तों को भुलाकर एक-दूसरे का साथ निभाने के तैयार हो गए ।
              विभिन्न कार्यक्रमों में शिरकत करने पहुंचे डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने दावा किया कि दलित और पिछड़े भारतीय जनता पार्टी के साथ हैं । क्योंकि यहीं पार्टी है जो सबका साथ-सबका विकास में विश्वास करती है । दोनों पार्टियों पर उन्होंने जातिवादी की राजनीति करने का आरोप लगाया।उन्होंने कहाकि सपा-बसपा का विकास और राष्ट्रवाद से कोई लेना-देना नहीं है । इस गठबंधन को बेमेल गठबंधन बताया ।
               शाहाबाद से विधायक रजनी तिवारी के स्कूल का उदघाटन करने के बाद एक जनसभा को सम्बोधित करते हुए उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने बसपा और पार्टी सुप्रीम मायावती समेत सपा पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि बसपा ने गरीबों का धन नहीं लूटा होता तो ये दिन नहीं देखना पड़ता। सपा ने विकास किया होता तो वनवास नहीं झेलना पड़ता। बुआ-भतीजे ने यूपी को 14 साल में गर्त में ले जाने का काम किया।
                डिप्टी सीएम ने कहाकि पहले की सरकारों में बेईमानी होती थी और अब जब हम सत्ता में आये ईमानदारी से काम कर रहे तो लोग उसमे भी बाधाएं डाल रहे लेकिन भाजपा सत्ता में आती है तो सेवा करती है शोषण नही करती।उन्होंने सरकार के कार्यों का भी बखान किया और यह भी कहाकि भृष्टाचार करने वाले की जगह कुर्सी की नही जेल की है।उन्होंने अधिकारियों को भी चेताया कहाकि कार्यकर्ताओं का सम्मान करें क्योंकि सरकार कार्यकर्ता की वजह से बनी अधिकारियों की वजह से नही। कहाकि एसजीएसटी आंदोलन की निंदा करता हूँ जिन्होंने समर्थन दिया वह गलत है और अराजकता के पीछे सपा बसपा कांग्रेस का हाँथ जिन्होने पर्दे के पीछे अंजाम दिया है जांच कराकर कार्यवाही करेंगे।