संजय सिंह, सांसद, आप ने पेयजल एवं स्वच्छता मिशन पर उठाए सवाल! | IV24 News | Lucknow

अवैध मिट्टी खनन में जेसीबी-डंपर सीज

कछौना, हरदोई। पुलिस अधीक्षक के कड़े तेवर के चलते कछौना पुलिस ने अभियान चलाकर अवैध खनन संचालक पूर्व ग्राम प्रधान रैसों के पुत्र पर ठोस कार्यवाई करते हुए एक जेसीबी मशीन, मिट्टी लदे डंपर को सीज कर दिया। इस कार्यवाई से खनन माफियाओं में हड़कंप मच गया।

बताते चलें कोतवाली कछौना क्षेत्र के अंतर्गत औद्योगिक क्षेत्र संडीला में अवैध मिट्टी खनन का हब बना है। पुलिस, राजस्व व खनन विभाग के गठजोड़ के चलते अनवरत अवैध मिट्टी खनन होता है। संडीला औद्योगिक क्षेत्र में कंपनियां स्थापित होने के कारण लगातार मिट्टी की आपूर्ति के कारण अवैध मिट्टी खनन अनवरत चलता हैं। संडीला क्षेत्र में हरदासपुर, बघुआमऊ, रैंसो, उसरहा, लोन्हारा, समोधा, बेरुआ, हथौड़ा, जमसारा, नैरा आदि ग्रामों में मिट्टी खनन अनवरत चलता है। खनन माफियाओं मानकों को ताक पर रखकर बिना स्वीकृत के अवैध मिट्टी खनन करते हैं। यह मिट्टी ओवरलोड डंपरों में भरकर दिन रात सड़कों पर गुजरते हैं। चांदी के सिक्के के आगे सभी जिम्मेदार मूकदर्शक रहते हैं। ओवरलोड के कारण क्षेत्र की सभी संपर्क मार्गों पर गड्ढे हो गए हैं। चंद दिनों में सड़क खराब हो जाती है। अधिकांश संपर्क मार्ग खराब हो चुके हैं। इन गड्ढों के कारण आए दिन सड़क दुर्घटना घटती हैं।

खनन माफिया वन विभाग व ग्राम सभा की सार्वजनिक भूमि को मिट्टी खनन से नहीं चूकते हैं। यह खनन माफिया परमिशन की आड़ में अवैध मिट्टी खनन को अंजाम देते हैं। मुख्य किरदार पुलिस का होता है। पुलिस की साफ नीयत, सही कार्यशैली पर ही अवैध मिट्टी खनन पर अंकुश लग सकता है। अवैध मिट्टी खनन माफियाओं का खामियाजा आम जनमानस को उठाना पड़ता है। अवैध मिट्टी खनन डंपर की चपेट में आने से कई बार लोगों की मृत्यु हो चुकी है।

रिपोर्ट – पी०डी० गुप्ता