संजय सिंह, सांसद, आप ने पेयजल एवं स्वच्छता मिशन पर उठाए सवाल! | IV24 News | Lucknow

वार्षिकोत्सव के प्रथम दिवस पर संस्थान की विशिष्ट पुस्तक “नई उमंग” का हुआ शानदार विमोचन

राजेश पुरोहित, भवानीमंडी

दिल्ली : साहित्य संगम संस्थान नई दिल्ली की स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में आयोजित दो जुलाई से चार दिवसीय वार्षिकोत्सव का शुभारंभ साहित्य संगम संस्थान के राष्ट्रीय उद्घोषक आदरणीय विनोद वर्मा दुर्गेश जी अध्यक्ष हरियाणा इकाई साहित्य संगम संस्थान के अथक परिश्रम द्वारा बहुत ही शानदार तरीके से संपन्न हुआ।

इस अवसर पर देश की कई बड़ी हस्तियों ने गणमान्य अतिथि व निर्णायक की भूमिका निभाई , जिसके अंतर्गत मुख्य अतिथि के रूप में पूर्व सचिव विधान परिषद् उत्तर प्रदेश आ० अशोक चौधरी जी पूर्व जनपद न्यायाधीश महोदय जी, विशिष्ट अतिथि के रूप में आ० प्रशांत करण जी पूर्व आईपीएस अधिकारी महोदय की उपस्थिति ऐतिहासिक रही। उद्धाटन समारोह के इस प्रथम दिवस पर साहित्य संगम संस्थान नई दिल्ली के कुछ विशेष सम्माननीय संगम सारथियों के काव्य संग्रह “नई उमंग” पुस्तक का विमोचन मंचमणि डॉ श्रीनिवास शुक्ल सरस जी प्रतिष्ठित साहित्यकार सीधी के करकमलों होना बेहद ही खास रहा। आपको बताते हुए यह खुशी हो रही है कि साहित्य संगम संस्थान नई दिल्ली अपने किसी भी साहित्य साधक की साधना को खाली हाथ नहीं छोड़ती , जिसका उदाहरण यह पुस्तक “नई उमंग” साहित्य संगम संस्थान नई दिल्ली के अग्रणी साहित्य साधकों के काव्य संग्रह के रूप में आज साहित्य जगत के पुस्तकालय में शामिल हुई। यह पुस्तक अपने आपमें एक उत्कृष्ट पुस्तक है, जिसमें साहित्य संगम संस्थान नई दिल्ली के सक्रिय कार्यकर्ताओं की सक्रियता का चित्र साफ झलकता है। उम्मीद है यह पुस्तक साहित्यिक गतिविधियों में अपना पूर्ण योगदान देगी।

पुस्तक विमोचन के पर “नई उमंग” पुस्तक जो केवल पुस्तक नहीं बल्कि साहित्य संगम संस्थान नई दिल्ली की एक सशक्त टीम है , को आस्ट्रेलिया से आ० छगनलाल मुथा जी, मलेशिया से आ० अर्चना श्रीवास्तव जी, दुबई से इंजीनियरिंग विनय गौतम विनम्र जी व अमेरिका से दोहाशाला अधीक्षिका आ० अनिता सुधीर आख्या जी आदि अति विशिष्ट साहित्यिक हस्तियों का आशीर्वचन प्राप्त हुआ।