ब्लॉक कोथावां में वोटर लिस्टों की बिक्री के नाम पर हो रही अवैध वसूली

पृथ्वीनाथ पाण्डेय की पाठशाला

May 12, 2020 0

प्रश्न एक- महाभारत में कुल कितने श्लोक हैं?(क) ८८ हज़ार (ख) १ लाख (ग) १ लाख १० हज़ार (घ) इनमें से कोई नहीं। प्रश्न दो- महाभारत को किसने लिखा था?(क) ब्रह्मा ने (ख) विष्णु ने […]

नेता जी मुरदाबाद!

May 9, 2020 0

— पृथ्वीनाथ पाण्डेय एक–नेता जी के बग़ल में, सुघर सलोनी सोय।पुण्य कमाते हर घड़ी, पाप कहाँ से होय।।दो–‘नेता’ धाकड़ शब्द है, जपो-जपो हर रोज़।पाप करो हर दिन सदा, करो अनोखा खोज।।तीन–है रूप-रुपया-रुतबा, नेता की पहचान।आग […]

‘सर्जनपीठ’ का ऑन-लाइन सारस्वत समारोह सम्पन्न

May 9, 2020 0

● आचार्य जी के कथनों-विचारों के पीछे ‘व्यक्तित्व’ की गरिमा थी। प्राचीनता की उपेक्षा न करते हुए भी नवीनता को समादृत करने में सिद्धहस्त आचार्य महावीर प्रसाद द्विवेदी जी ने हिन्दीपद्य और गद्य की भाषा […]

‘पृथ्वीनाथ पाण्डेय की प्रायोगिक भाषिक पाठशाला’

March 22, 2020 0

यह ‘समय’ (छत्तीसगढ़-मध्यप्रदेश) के समाचार-चैनल का चित्र है। इस चैनल के चित्र को ध्यानपूर्वक देखें। सबसे नीचे के समाचार-शीर्षक को पढ़ें :— ० सभी मृतक लकड़ी से लदे ट्रैक्टर में सवार थे। इस सामाचारिक वाक्य […]

भारत में ‘लोकतन्त्र’ के लिए वातावरण नहीं

March 19, 2020 0

*मुक्त मीडिया का ‘आज’ का सम्पादकीय* पृथ्वीनाथ पाण्डेय- वर्तमान केन्द्र-सरकार का संचालन करनेवाले देश की जनता के सामने छ: वर्षों के भीतर जितने भी प्रकार के कार्य करने के लिए वचनबद्ध हुए थे, उनमें से […]

शोधकर्म की गुणवत्ता पर लगता ग्रहण

March 17, 2020 0

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय- खेद है, शोध कर रहे और करा रहे ‘शोध’ की अर्थ-अवधारणा से परिचित ही नहीं हैं। चार-छ: पृष्ठों में शोधपत्र का लेखन कर लिया जाता है और दस सन्दर्भ सामग्री के नाम […]

शेष-अवशेष

March 13, 2020 0

पृथ्वीनाथ पाण्डेय एक : मैंने सूरज का जवाल१ भी देखा है, तूने कर लिया ख़ुद के साये पे भरोसा? दो : मेरे लाख कहने पे भी नहीं मानते हैं लोग, यों खुलकर मत मिलो बुरा […]

आवर्त्तन और दरार

March 13, 2020 0

पृथ्वीनाथ पाण्डेय– एक : जब भी चाहा, उठाकर फेंक दिया, दोस्ती का नाम देते शर्म आयी नहीं। दो : तुम भी आ जाओ, मेरे साये में, दीवार होने की सज़ा मालूम है। तीन : बहके-बहके […]

एक अभिव्यक्ति

March 12, 2020 0

पृथ्वीनाथ पाण्डेय– बेशक, चाहो पर बताओ नहीं, बेशक, पाओ पर सताओ नहीं। मुद्दत बाद ज़िन्दगी सयानी हुई, उसे सब्ज़बाग़ दिखाओ नहीं। मस्त-मौला है और फक्कड़ भी, भूले-बिसरे भी आज़्माओ नहीं। हक़ीक़त की ज़मीं ही बेहतर […]

अभिव्यक्ति के दंश

March 12, 2020 0

पृथ्वीनाथ पाण्डेय एक : ऐ हुस्न की मलिक:! आँखें यों मला न करो, वही तस्वीर है, जो छोड़कर तुम आयी थी। दो : अब लौटकर न आयेंगी फिर से बहारें, मेरे आँसू में अब डूबते […]

चन्द अश्आर

March 12, 2020 0

पृथ्वीनाथ पाण्डेय एक : बेतरतीब बनती जा रहीं रिश्ते की ज़ंजीरें, किसी बच्चे की चाहत-मानिन्द उलझी हुईं। दो : आँखों ने आँखों से गुफ़्तुगू क्या कर ली महफ़िल में, फ़क़त बात इतनी थी मगर अफ़साना […]

‘यश बैंक’ की बेईमान व्यवस्था से त्रस्त जनता

March 12, 2020 0

‘मुक्त मीडिया’ का ‘आज’ का सम्पादकीय ‘यश बैंक’ की असलीयत जानें और विषय-केन्द्रित ही प्रतिक्रिया करें। इन सभी समूह और इनके अतिरिक्त जो नाम यहाँ दिख नहीं रहे हैं, उनके विरुद्ध भी कठोर दण्डात्मक काररवाई […]

पृथ्वीनाथ पाण्डेय के कुछ शे’र

March 11, 2020 0

पृथ्वीनाथ पाण्डेय– एक : जब भी चाहा, उठाकर फेंक दिया, ऐसी दोस्ती से तेरी दुश्मनी ही भली। दो : तुम भी आ जाओ, मेरे साये में, मुझे दीवार होने की सज़ा मालूम है। तीन : […]

एक अभिव्यक्ति

March 11, 2020 0

पृथ्वीनाथ पाण्डेय एक– तिल का ताड़ दिखने लगे हक़ीक़त में, सोचना, दिमाग़ का ज़ंग अभी बाक़ी है। दो– कुछ अलग हटकर सोचा करो साहिब! यहाँ जितने हैं ‘रेडीमाल’ बेचा करते हैं। तीन– तिनके-तिनके जोड़कर आशियाँ […]

वर्तमान सरकार का राष्ट्रघाती चेहरा!

March 6, 2020 0

‘मुक्त मीडिया’ का ‘आज’ का सम्पादकीय पृथ्वीनाथ पाण्डेय- वर्तमान सरकार पूरी तरह से ‘राष्ट्रविरोधी’ है; क्योंकि उसने यह अधिकार अपने हाथों में ले लिया है– हम तय करेंगे, कौन राष्ट्रभक्त है और कौन राष्ट्रद्रोही। यह […]

भारत राष्ट्र को बाँटो मत, हमें एकजुट रहने दो!

March 5, 2020 0

‘मुक्त मीडिया’ का ‘आज’ का सम्पादकीय —पृथ्वीनाथ पाण्डेय– देश के समस्त राजनीतिक दलों के आकाओ! प्रधान नेताओ, चौकीदारो, सांसदो, विधायको, छुटभय्यो, रंगदारो तथा अन्ध समर्थको! देश को धर्मान्ध मत बनाओ; देश को जाति, क्षेत्र, वर्गादिक […]

“डंके की चोट पर” सार्वजनिक घोषणा

March 4, 2020 0

मैं अपने मूल नाम पृथ्वीनाथ पाण्डेय से पूर्व लगे ‘डॉ०’ शब्द का प्रयोग नहीं करने की घोषणा करता हूँ; क्योंकि जिस तरह से ‘नेता’ शब्द जाहिलों के साथ जुड़ता आ रहा है वैसे ही ‘डॉ०’ […]

प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी की एक और नौटंकी शुरू

March 3, 2020 0

पृथ्वीनाथ पाण्डेय– नरेन्द्र मोदी ने कल (२ मार्च) रात्रि में ट्वीट किया था– मैं ‘सोसल मीडिया’ प्लेटफॉर्म छोड़ रहा हूँ, फिर आज दोपहर में लगभग १६ घण्टे-बाद ट्वीट किया है– एक दिन के लिए ‘सोसल […]

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय की प्रायोगिक पाठशाला

February 25, 2020 0

यह है, ‘न्यूज़ 24’ समाचार-चैनल। नीचे ‘न्यूज़ 24’ समाचार-चैनल-द्वारा २४ फ़रवरी, २०२० ई० को प्रसारित किये गये दो समाचार दिखाये गये हैं। आप अब नीचे प्रदर्शित किये गये दोनों चित्रों के भाषिक सत्य को समझें […]

डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय हिमाचलप्रदेश के राष्ट्रीय अधिवेशन में निमन्त्रित

February 23, 2020 0

भाषाविद्-समीक्षक डॉ० पृथ्वीनाथ पाण्डेय हिन्दी साहित्य सम्मेलन प्रयाग की ओर से आयोजित सोलन, हिमाचलप्रदेश में आयोजित राष्ट्रीय अधिवेशन में विशिष्ट वक्ता के रूप में निमन्त्रित किये गये हैं। उल्लेखनीय है कि सम्मेलन का यह त्रिदिवसीय […]

1 2 3 6
url and counting visits