कोथावाँ प्रा०वि० का हाल, बच्चों को दूध और फल नहीं दे रहे जिम्मेदार

मेलजोल एवं एचसीएल फाउंडेशन के सहयोग से आयोजित ब्लॉक स्तरीय बाल मेला “अफलातून” का हुआ रंगारंग समापन

कछौना (हरदोई): गुरुवार को मेलजोल संस्था एवं एचसीएल फाउंडेशन द्वारा चलाए जा रहे ब्लॉक स्तरीय बाल मेले अफलातून कार्यक्रम का समापन समारोह का रंगारंग आयोजन किया गया। समारोह का आयोजन 27 दिसंबर से शुरू होकर 3 जनवरी तक किया गया।जिसमें विकास खंड कछौना, कोथावां, बेहन्दर से अलग-अलग दिवसों पर 138 विद्यालयों से प्रतिभाशाली बच्चों ने सहभागिता की। साथ ही अफलातून कार्यक्रम के अंतर्गत विभिन्न प्रकार की सामाजिक एवं आर्थिक उद्यमिता की मनमोहक प्रदर्शनी को सजा कर कार्यक्रम में आए हुए गणमान्य अतिथियों को प्रशंसा करने के साथ ही कुछ ना कुछ खरीदने पर मजबूर कर दिया।अतिथियों ने भी बच्चों द्वारा निर्मित वस्तुओं को खरीद कर उनकी हौसला अफजाई की।

अफलातून बाल मेले के इस कार्यक्रम में अफलातून बच्चे मान्शी, खुशी, मुस्कान, प्रीती, हरिओम, प्रांशी, रोशनी, शोभित सहित 20 बच्चों ने प्रथम स्थान प्राप्त किया, 40 बच्चों ने द्वितीय स्थान एवं 50 बच्चों ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।

कार्यक्रम में आये मुख्य अतिथि उप जिलाधिकारी संडीला उदयभान सिंह एवं जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी हेमंत राव ने बच्चों द्वारा प्रदर्शित अफलातून कार्यक्रम की प्रदर्शनी की भूरि-भूरि प्रशंसा करते हुए बच्चों की जमकर सराहना की, वहीं विशिष्ट अतिथि अंतरराष्ट्रीय पहलवान गोल्ड मेडलिस्ट रेशम सिंह ने बच्चों का उत्साहवर्धन करते हुए इस कार्यक्रम को बच्चों के लिए बेहद जरूरी बताया। साथ ही खंड शिक्षा अधिकारी कछौना मनोज कुमार बोस व खंड शिक्षा अधिकारी बेहंदर आर.पी.त्रिपाठी ने बच्चों की इस प्रतिभा को सराहते हुए उन्हें सहयोग करने की बात कही। वहीं मेलजोल संस्था के राज्य परियोजना निदेशक डॉक्टर केशन कुमार लहरी के द्वारा बच्चों के अफलातून बनने के इस अमूल्य गुण एवं उसे पहचानने की क्षमता पर अपना सराहनीय वक्तव्य प्रस्तुत किया।

अफलातून ब्लॉक स्तरीय बाल मेले के इस कार्यक्रम का संचालन जितेंद्र कुमार द्वारा किया गया। कार्यक्रम में मेलजोल कार्यकर्ता सहित बेहन्दर विकास खंड से कई शिक्षकों सहित बच्चों की उपस्थिति रही। साथ ही केडीएस बीएलएम ग्रुप डांस के बच्चों ने अपना कार्यक्रम प्रस्तुत किया।