संजय सिंह, सांसद, आप ने पेयजल एवं स्वच्छता मिशन पर उठाए सवाल! | IV24 News | Lucknow

मनकामेश्वर मंदिर में बिना मास्क वाले भक्तों पर रोक

लखनऊ। कोरोना के दोबारा बढ़ते संक्रमण को देखते हुए डालीगंज के प्रतिष्ठित मनकामेश्वर मंदिर में बिना मास्क लगाए आने वाले भक्तों पर रोक लगा दी गई है। जो भी भक्त आएंगे वह माक्स लगा कर आए और सेनिटाइजर करके आए तभी उन्हें प्रवेश दिया जाएगा।

मंदिर की महंत देव्या गिरी जी महाराज ने कहा कि जिस प्रकार देश में दोबारा कोरोना कोविड 19 महामारी फैल रही है। उसको देखते हुए हम सभी को सतर्क रहने की जरूरत है। यदि हम इसमें लापरवाही करेंगे तो यह हम सबके जान के लिए खतरा बन सकता है। इसलिए मंदिर में आने वाले भक्तों से आग्रह है कि मंदिर में आए तो माक्स लगा कर आए और सैनिटाइजर करके आएं।

इसके अलावा उन्होंने मंदिर के बाहर फल फूल प्रसाद की दुकानदारों से भी आग्रह किया है कि दुकान पर स्वयं माक्स लगाएं और आने वाले श्रद्धालुओं से भी माक्स लगाने की अपील करें।

आंवला नवमी पर बांटे गए मास्क

आंवला नवमी के अवसर पर मनकामेश्वर मंदिर में सोमवार को
महंत देव्या गिरी जी महाराज ने करीब तीन सौ कपड़े के मास्क्स और सौ सेनिटाइजर बांटे।

उन्होंने लोगों से अपील की कि आंवले का सेवन अधिक से अधिक किया जाए। आंवले के सेवन से आयु और आरोग्य में वृद्धि होती है आज के दिन को अक्षय नवमी भी कहा जाता है। क्योंकि इस दिन किया गया कोई भी शुभ कार्य फल देने वाला होता है। यह प्रकृति के प्रति आभार व्यक्त करने का भारतीय संस्कृति का पर्व है इस दिन आंवले के पेड़ का पूजन कर परिवार के लिए आरोग्यता व सुख सौभाग्य की कामना की जाती है। आंवले के वृक्ष में भगवान विष्णु एवं शिव जी का निवास होता है। इस दिन इस वृक्ष के नीचे बैठने और भोजन करने से सभी रोगों का नाश होता है।

मनकामेश्वर मंदिर में बिना मास्क वाले भक्तों पर रोक

लखनऊ। कोरोना के दोबारा बढ़ते संक्रमण को देखते हुए डालीगंज के प्रतिष्ठित मनकामेश्वर मंदिर में बिना मास्क लगाए आने वाले भक्तों पर रोक लगा दी गई है। जो भी भक्त आएंगे वह माक्स लगा कर आए और सेनिटाइजर करके आए तभी उन्हें प्रवेश दिया जाएगा।

मंदिर की महंत देव्या गिरी जी महाराज ने कहा कि जिस प्रकार देश में दोबारा कोरोना कोविड 19 महामारी फैल रही है। उसको देखते हुए हम सभी को सतर्क रहने की जरूरत है। यदि हम इसमें लापरवाही करेंगे तो यह हम सबके जान के लिए खतरा बन सकता है। इसलिए मंदिर में आने वाले भक्तों से आग्रह है कि मंदिर में आए तो माक्स लगा कर आए और सैनिटाइजर करके आएं।

इसके अलावा उन्होंने मंदिर के बाहर फल फूल प्रसाद की दुकानदारों से भी आग्रह किया है कि दुकान पर स्वयं माक्स लगाएं और आने वाले श्रद्धालुओं से भी माक्स लगाने की अपील करें।

आंवला नवमी पर बांटे गए मास्क

आंवला नवमी के अवसर पर मनकामेश्वर मंदिर में सोमवार को
महंत देव्या गिरी जी महाराज ने करीब तीन सौ कपड़े के मास्क और सौ सेनिटाइजर बांटे।

उन्होंने लोगों से अपील की कि आंवले का सेवन अधिक से अधिक किया जाए। आंवले के सेवन से आयु और आरोग्य में वृद्धि होती है आज के दिन को अक्षय नवमी भी कहा जाता है। क्योंकि इस दिन किया गया कोई भी शुभ कार्य फल देने वाला होता है।

यह प्रकृति के प्रति आभार व्यक्त करने का भारतीय संस्कृति का पर्व है इस दिन आंवले के पेड़ का पूजन कर परिवार के लिए आरोग्यता व सुख सौभाग्य की कामना की जाती है। आंवले के वृक्ष में भगवान विष्णु एवं शिव जी का निवास होता है। इस दिन इस वृक्ष के नीचे बैठने और भोजन करने से सभी रोगों का नाश होता है। विपिन द्विवेदी, नेहा अग्रवाल, एकता अग्रवाल, सुमित आदि का ,महती भूमिका रहीं ।