जिला महिला चिकित्सालय का जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह ने किया औचक निरीक्षण

अंकित सक्सेना बदायूँ-

डीएम के औचक निरीक्षण में महिला चिकित्सालय में कमियाँ मिली है। उन्होंने सीएमएस को कमियों को जल्द दूर करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है केन्द्र सरकार आयुष्मान भारत योजना अन्तर्गत मरीजों का पांच लाख रुपए तक का निःशुल्क इलाज कराने की योजना चला रही है। मरीजों की फिंगर प्रिंट के माध्यम से बेड टू बेड जाकर जांच कर उनके नाम को चेक किया जाए। मरीज इस योजना अन्तर्गत पात्र होने पर उनका गोल्डन कार्ड भी बनाया जाए। जिससे वह इसका प्रयोग कर सकें।

बुधवार को जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह ने औचक रूप से जिला महिला चिकित्सालय का निरीक्षण किया। निरीक्षण में आयुष्मान भारत योजना मित्र प्रमोद कुमार मौके से न मिलने पर डीएम ने नाराजगी व्यक्त करते हुए सीएमएस रेखारानी को निर्देश दिए कि आयुष्मान भारत योजना मित्र समय से नियमित रूप से बैठे तथा इलाज के लिए आए मरीजों की बेड टू बेड जाकर फिंगरप्रिंट के माध्यम से जांच करें, यदि मरीज इस योजना का लाभार्थी हो तो उसका गोल्डन कार्ड बनाया जाए, जिससे वह कहीं भी पांच लाख रुपए तक का निःशुल्क इलाज इस योजना के माध्यम से करा सके। कार्यदायी संस्था राजकीय निर्माण निगम द्वारा निर्मित बिल्डिंग 100 शैय्या मातृ एवं शिशु चिकित्सालय में दो लिफ्ट भी लगी हुई है, जो खराब हैं, बिल्डिंग में सीलन है और शौचालय का ढाल उल्टी तरफ बना हुआ है। डीएम ने नाराजगी व्यक्त करते हुए निर्देश दिए कि कार्यदायी संस्था को नोटिस भेजकर एक माह के भीतर सही कराया जाए, अन्यथा एफआईआर दर्ज कराई जाए। शौचालय संख्या 29 व 30 में ताला पड़ा देख डीएम ने सीएमएस की डांट लगाते हुए निर्देश दिए शौचालय बंद रहेगा अस्पताल में आए मरीज व तीमारदार इधर-उधर जाकर गंदगी करेंगे, इसे खुलवाया जाए।

बिल्डिंग की सीढ़ियों पर पान, पुड़िया के पीक के निशान देखकर भी डीएम ने नाराजगी व्यक्त की। उन्हांेने अपने सामने निशानों को साफ कराया। उन्होंने सीएमएस को निर्देश दिए कि अस्पताल को साफ-सुथरा रखें और अस्पताल को मॉडल अस्पताल बनाए। डीएम ने मरीजों से अस्पताल की ओर से मिलने वाली सुविधाओं के बारे में भी जाना। उन्होंने कहा कि अस्पताल में सभी प्रकार की सेवाएं पूर्ण रूप से निःशुल्क हैं, किसी भी कर्मचारी को कोई पैसा न दें। यदि फिर भी कोई पैसा मांगता है तो इसकी शिकायत अवश्य करें। दोषियों को किसी भी दशा में बख्शा नहीं जाएगा। इस अवसर पर सिटी मजिस्ट्रेट केके अवस्थी भी मौजूद रहे।

url and counting visits