कोथावाँ प्रा०वि० का हाल, बच्चों को दूध और फल नहीं दे रहे जिम्मेदार

अभियान गीत : हर हाथ क़लम

हर हाथ कलम अभियान चलाकर मानेंगे।
हम सरकारी स्कूल की सूरत बदल कर मानेंगे।।

श्रम से अपने बच्चों को आगे बढ़ाकर मानेंगे।
गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा का परचम हम ही लहरायेंगे।।

पेन पेंसिल और रबर से दुनिया का ज्ञान सिखाएंगे।
जरूरतमंद बच्चों की मदद करने हम आएंगे।।

गाँव-गाँव ढाणी-ढाणी मिलकर अलख जगायेंगे।
स्टेशनरी किट सजाकर स्कूल तक पहुचायेंगे।।

हर स्कूल में स्टेशनरी बैंक एक खुलवाएंगे।
सरकारी स्कूल शिक्षा को आगे हम बढ़ाएंगे।।

नहीं रुकेंगे नहीं झुकेंगे नहीं कोई विश्राम लेंगे।
हर हाथ कलम अभियान से शिक्षा का दीप जलाएंगे।।

तेजस्वी मन को शक्तिशाली भारत की नींव बनाएंगे।
हर प्रतिभा को निखार संवार कुशल बना दिखाएंगे।।

मिशन कलाम पूरा करने में अग्रणी रोल निभाएंगे।
हर घर गाँव शहर में शैक्षिक क्रांति लाएंगे।।

राजेश कुमार शर्मा ‘पुरोहित’ (अध्यापक, राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय सूलिया, जिला झालावाड, राजस्थान)