दून के अनिरुद्ध को पीजीआई चंडीगढ में राष्ट्रव्यापी रक्तदान शिविर के संचालन के लिए मिला सम्मान

स्टूडेंट असोसिएशन ऑफ फिजीकल थैरेपी के संस्थापक एवं राष्ट्रीय अध्यक्ष देहरादून के बालावाला निवासी श्री अनिरुद्ध उनियाल जी व उनके संगठन एसएपीटी इंडिया को कोविड महामारी के समय राष्ट्रव्यापी रक्त दान कैंपेन “जीवन रेखा” के संचालन के लिए अंतरराष्ट्रीय रक्त दान दिवस की पूर्व संध्या पर पीजीआई चंडीगढ के निर्देशक प्रोफेसर विवेक लाल जी एवं पूर्व निर्देशक पद्म श्री प्रोफेसर जगत राम जी द्वारा सम्मानित किया गया। यह कार्यक्रम डिपार्टमेंट आफ ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन पीजीआई चंडीगढ द्वारा आयोजित करवाया गया।

कार्यक्रम में श्री संजय टंडन जी , निर्देशक स्टील एवं कोल कमेटी,भारत सरकार, अध्यक्ष, यूनियन ट्रेटेरी क्रिकेट असोसिएशन, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य, भाजपा, श्री अरुण सूद जी प्रदेश अध्यक्ष, भाजपा चंडीगढ, श्री उदयपाल जी डीएसपी (ट्रेफिक ), चंडीगढ पुलिस,आदि गणमान्य अतिथि मौजूद रहे।

“जीवन रेखा” अभियान के अंतर्गत एसएपीटी इंडिया ने वैश्विक महामारी कोरोना के समय में जब पूरे देश के अस्पतालों में खून की कमी थी उस मुसीबत की घड़ी में एसएपीटी इंडिया ने जीवन दायिनी रक्त दान शिविर आयोजित कर अस्पतालों में जरूरतमंदों की सहायता की व यह रक्त दान शिविर इस महामारी के समय में मरीजो की सहायता में एक मील का पत्थर साबित हुए। इस मौके पर एसएपीटी इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अनिरुद्ध उनियाल ने निर्देशक महोदय प्रोफेसर विवेक लाल , पूर्व निर्देशक महोदय पद्म श्री प्रोफेसर जगत राम, ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन के विभागाध्यक्ष प्रोफेसर रती राम शर्मा एवं असोसिएट प्रोफेसर सुचेत सचदेव जी का ह्रदय से आभार एवं धन्यवाद व्यक्त किया व एसएपीटी इंडिया के सभी साथियो का एवं सभी रक्त दाताओ का भी आभार प्रकट किया। साथ ही उन्होने कहा कि एसएपीटी इंडिया सदैव समाज हित के कार्य के लिए कटिबद्ध है और आने वाले समय में भी इस प्रकार के रक्त दान शिविर व राष्ट्र हित के कार्य में संलग्न रहेंगे। इस मौके पर शिवम शर्मा, हैप्पी शर्मा, डा0 बलजिंदर सिंह, पंकज, रामकृष्ण, महक, संजीवनी आदि एसएपीटी के सदस्य उपस्थित रहे।