संजय सिंह, सांसद, आप ने पेयजल एवं स्वच्छता मिशन पर उठाए सवाल! | IV24 News | Lucknow

हाम्रो स्वाभिमान ट्रस्ट ने किया चतुर्थ सुर-स्वराग-सांगीतिक कार्यक्रम

रिज़वान रज़ा :

नई दिल्ली : हाम्रो स्वाभिमान ट्रस्ट द्वारा कोरोना काल में शुरू हुए ऑनलाइन संगीत-प्रस्तुति कार्यक्रम समारोह का सिलसिला लगातार चौथे सप्ताह भी जारी रहा। रविवार को ऑनलाइन जूम एप के माध्यम से आयोजित इस मनोहर संगीत समारोह में देश भर से अनेक कलाकारों, और संगीतप्रेमियों ने सहभागिता की तथा अपनी सांगीतिक एवं गायन की प्रस्तुतियां दी। इन कलाकारों के गायन एवं सांगीतिक प्रस्तुतियों को सुनने के बाद दर्शक-श्रोताओं ने भूरि भूरि प्रशंसा की।

युवा एवं नवोदित कलाकारों को रविवासरीय संगीत कार्यक्रम सुर-स्वराग के माध्यम से जन जन तक पहुचाने का कार्य हाम्रो स्वाभिमान ट्रस्ट द्वारा निरन्तर किया जा रहा है। इसी कारण से संस्था द्वारा कोरोना काल में देश-विदेश के कलाकारों को जूम, यू ट्यूब, फेसबुक आदि के अन्तर्जालीय माध्यमो से कार्यक्रम प्रस्तुति के लिए अवसर दिया जा रहा है। इस संगीत समारोह का प्रारम्भ भारतीय परंपरा के अनुसार दीप-प्रज्वालन नारायण शर्मा उपाध्यक्ष हाम्रो स्वाभिमान द्वारा किया गया तथा साहित्य अकादेमी युवा पुरस्कार विजेता युवराज भट्टराई द्वारा मङ्गलाचरण प्रस्तुत किया। इसके बाद ट्रस्ट के संरक्षक प्रसिद्ध पूर्व भारतीय प्रशासनिक अधिकारी नोर्बू क्षिरिंग ने कार्यक्रम में अपने वक्तव्य से उपस्थित सभी कलाकारों एवं संगीत प्रेमियों का उत्साहवर्धन किया और हाम्रो स्वाभिमान द्वारा देश के कोने कोने से कलाकार को चयन करके उनको एक प्लाट्फ़ोर्म दिए रहे कार्य कि भूरी भूरी प्रशंसा किया और इसका सारा श्रेय अनिता क्षेत्री अंतराष्ट्रीय संयोजिका व कार्यक्रम की व्यवस्थापिका एवम राहुल कालिकोटे प्रसिद्ध संगीतकार व
प्रोग्राम हेड सुर स्वराग को दिया।

इस मैके पर नोर्बू क्षिरिंग ने ट्रस्ट के महामंत्री व ट्रस्टी प्रेम क्षेत्री के योगदान को सराहा। इस अवसर पर ट्रस्ट के महासचिव, प्रसिद्ध अधिवक्ता एवं प्रख्यात समाजसेवी प्रेमक्षेत्री ने कहा कि हाम्रो स्वाभिमान संस्था हमेशा ही लोक-संगीत एवं लोक कलाओं के संरक्षण एवं प्रचार प्रसार के लिए तथा आधुनिक नई पीढ़ी में प्राचीन भारतीय शास्त्रीय संगीत-कला के उपयोगिता को प्रतिष्ठापित करने के लिए ऐसे सांगीतिक-आयोजन करती रहेगी। उन्होंने ट्रस्ट अध्यक्ष नारायण श्रेस्ठ द्वारा किया गया योगदान को याद किया।

हाम्रो स्वाभिमान संस्था की अंतराष्ट्रीय संयोजिका तथा इस कार्यक्रम की निर्माता व संचालिका अनीता क्षेत्री ने कहा कि इस साप्ताहिक संगीत-सम्मेलन को करने का मुख्य उद्देश्य उन कलाकारों को खोजना है जिनको कोई मौक़ा नहीं मिल रहा है। इस ऑनलाइन संगीत कार्यक्रम में कलाकारों के द्वारा लोक गीत, एवं आधुनिक संगीत प्रस्तुत किए गए जिसमें देश भर से ऑनलाइन जुडे प्रसिद्ध गायक गायिकाओं ने हिन्दी और नेपाली गीतों की सुरम्य मनोहर प्रस्तुतियां दी। सुर स्वराग में यू॰एस॰ए॰ से प्रसिद्ध संगीतकार व गीतकार प्रेम रामदाम गेस्ट ओफ़ ऑनर बनके सभी कलाकार को प्रोत्साहित किया। उन्होंने दो कलाकार को भविष्य में गाने के लिए मौक़ा देने का भी वादा किया।

हाम्रो स्वाभिमान द्वारा आयोजित सुर स्वराग के प्रोडक्शन हेड राहुल कालिकोटे (प्रसिद्ध म्यूजिक डायरेक्टर) जिन्होंने सा रे गा मा पा, इंडीयन आइडल, राइज़िंग स्टार, वॉइस ओफ़ इण्डिया आदि में कार्य किया ने बहुत मेहनत करके देश एवम विदेश के कोने कोने से प्रतिभावान कलाकारों को ढूँढा और गाना गाने के लिए चयनित किया। राहुल कालिकोटे स्वयं सुर स्वराग में कलाकारों को जज करते है। ये उनकाहि प्रयास है की एक से एक कलाकार इस कार्यक्रम में हिस्सा ले रहे है।

अनिता क्षेत्री ने प्रत्येक कलाकारों को अपनी प्रेरणाप्रदायक वाणी से प्रेरित एवं प्रोत्साहित किया और उनको संगीत के बारे में सुर ताल का बोध भी कराया। इस कार्यक्रम में प्रसिद्ध गायिका सुनीति खाती, पल्लवी लोहागन, संतुनि बराइली, प्रसिद्ध गायक विक्रम खत्री, हरी नेवार, आर्यमन जूयाल, विवेक क्षेत्री ने अपनी प्रस्तुति से कार्यक्रम में समा बांध दिया।
इस कार्यक्रम के मुख्य आकर्षण राइज़िंग स्टार और इंडीयन आइडल की स्टार पर्फ़ोर्मर सोनिया गजमेर रही जिन्होंने अपने गायन से सभी को मंत्रमुक्ध किया। सोनिया गजमेर ने हिन्दी और नेपाली दोनों भाषाओं में गीत प्रस्तुत कर के अपनी मधुरिम स्वर से सभी दर्शक श्रोताओं को मन्त्रमुग्ध किया।
लगभग दो घंटे तक चली इस संगीत गोष्ठी में दिल्ली, दार्जीलिंग, सिक्किम, सिलीगुड़ी, ड़ूवर्स, असम एवं नेपाल सहित अन्य स्थानो से बहुत से संगीत प्रेमी व्यक्ति जुड़े थे।

इस अनूठे ऑनलाइन संगीत-कार्यक्रम में विविध विधाओं की संगीतिक प्रस्तुतियों का देश-विदेश के लाखों संगीत प्रेमियों ने ऑनलाइन आनन्द उठाया।