संजय सिंह, सांसद, आप ने पेयजल एवं स्वच्छता मिशन पर उठाए सवाल! | IV24 News | Lucknow

काव्य और कलाओं के बीच सम्पन्न हुआ साहित्य संगम संस्थान की दिल्ली इकाई वार्षिकोत्सव

दिल्ली : साहित्य संगम संस्थान की दिल्ली इकाई का स्थापना दिवस बहुत ही नायाब अंदाज में आज यानि 11 अक्टूबर को सम्पन्न हुआ। राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी राजेश पुरोहित को जानकारी दी गई कि स्थापना दिवस समारोह में देश के विविध प्रांतों के जाने-माने साहित्यकारों ने हिस्सा लिया। इस ऐतिहासिक वार्षिकोत्सव को दिल्ली इकाई के प्रसिद्ध उद्बोधक आ. संतोष जी ने बहुत ही जबरदस्त तरीके से संबोधित किया। दिल्ली इकाई के द्वारा वार्षिकोत्सव को लेकर जो भी तैयारियाँ की गईं थीं, वह वाकई में काबिलेतारीफ है। हिन्दी साहित्य के विकास में बहुमुखी विकास का प्रदर्शन आज दिल्ली इकाई के द्वारा इस कार्यक्रम में साफ देखने को मिला।

सूत्रों का कहना है कि दिल्ली इकाई हिन्दी साहित्य के विकास में अपना सर्वस्र समर्पित करने वाली एक ऐसी संस्था बनकर उभरी है, जिसके तारीफ में जितना कहा जाए कम होगा। वार्षिकोत्सव के मौके देश के कई जाने-माने चेहरों ने भी शिरकत किया और अपनी काव्य प्रस्तुतियों के साथ दिल्ली इकाई को शुभ आशीर्वचन भी प्रेषित किया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि – आ. कलावती कर्वा जी, विशिष्ट अतिथि – डाॅ रामनिवास ‘इंडिया’ जी तथा कार्यक्रम अध्यक्ष – आ. प्रदीप मिश्र अजनबी जी आदि का उद्बोधन साहित्यिक दृष्टिकोण से अनमोल रहा। राष्ट्रीय अध्यक्ष – आ राजवीर सिंह मंत्र जी द्वारा हमेशा की तरह साहित्यिक मंत्र का उच्चारण व साहित्य के प्रति समाज का आह्वान किया गया। कार्यक्रम में स्वागत गान व काव्य प्रस्तुतियों का जबरदस्त समन्वय देखने को मिला। साथ ही वार्षिकोत्सव के शुभ अवसर पर “दिल्ली दिग्विजय” के साथ-साथ कई अन्य पुस्तकों का भी विमोचन किया गया, जो हिन्दी साहित्य की दृष्टिकोण से बहुत ही महत्वपूर्ण है। कार्यक्रम का समापन सम्मान पत्र वितरण और धन्यवाद ज्ञापन के साथ किया गया।