मतदान आपकी जिम्मेदारी, ना मज़बूरी है। मतदान ज़रूरी है।

सदर व पिहानी में बैठक कर एक शिक्षक की भांति जिला निर्वाचन अधिकारी ने प्रत्याशियों को पढ़ाया आचार संहिता का पाठ

नगर निकाय निर्वाचन 2017 को निष्पक्ष, शान्तिपूर्ण, भयमुक्त वातावरण में कराने हेतु संकल्पित जिला निर्वाचन अधिकारी/जिलाधिकारी शुभ्रा सक्सेना सहित पुलिस अधीक्षक विपिन कुमार मिश्र ने आज सदर व पिहानी में बैठक कर एक शिक्षक की भांति प्रत्याशियों को आचार संहिता का पाठ पढ़ाया।
 जिला निर्वाचन अधिकारी ने आचार संहिता के संबन्ध में प्रत्याशियों को आचार संहिता का पाठ पढ़ाते हुये कहा कि सभी राजनैतिक दल/उम्मीदवार/उनके प्रतिनिधि निर्वाचन के दौरान ऐसा कोई कार्य लिखकर, बोलकर अथवा किसी प्रतीक के माध्यम से नही करेगें जिससे किसी धर्म (मज़हब), सम्प्रदाय, जाति या सामाजिक वर्ग एवं राजनीतिक दल/उम्मीदवार/राजनीतिक कार्यकर्ताओं की भावना आहत हो या उससे विभिन्न वर्गांे/दलों/व्यक्तियों के बीच तनाव की स्थिति उत्पन्न हो। किसी भी राजनीतिक दल/उम्मीदवार की आलोचना उनकी नीतियों, कार्यक्रमों, पूर्व के इतिहास व कार्य के संबन्ध में ही की जा सकती है। किसी उम्मीदवार के व्यक्तिगत जीवन से संबन्धित पहलुओं पर आलोचना नही की जायेगी। मत प्राप्त करने के लिये जातीय, साम्प्रदायिक और धार्मिक भावना का परोक्ष या अपरोक्ष रूप से सहारा नही लिया जायेगा। पूजा स्थलों जैसे मन्दिर, मस्जिद, गिरजाघर व गुरूद्वारा आदि का उपयोग निर्वाचन में प्रचार हेतु तथा निर्वाचन संबन्धी अन्य कार्यों हेतु नही किया जायेगा। सभी राजनीतिक दल/उम्मीदवार ऐसे कार्यों से अलग रहेगें जो निर्वाचन विधि के अन्तर्गत भ्रष्ट आचरण/अपराध मानेेेे गये हैं जैसे किसी चुनावी सभा में गड़बड़ी करना या करवाना, मतदाता को रिश्वत देकर या डरा धमकाकर या आंतकित करके अपने पक्ष में मत देने के लिये प्रभावित करना तथा मतदाताओं को प्रभावित करने के लिये चुनाव की प्रक्रिया के दौरान किसी भी प्रकार का मादक द्रव्य बांटना आदि है।
उन्होने चुनाव प्रचार के संबन्ध में हिदायत देते हुये बताया कि सभी राजनीतिक दल/उम्मीदवार/इलेक्शन एजेण्ट चुनाव प्रचार के दौरान किसी अन्य राजनीतिक दल/उम्मीदवार या उसके समर्थक का पुतला लेकर चलने, उन्हें सार्वजनिक स्थानों पर जलाने अथवा इस प्रकार के अन्य कृत्य व प्रदर्शन नही करेंगे, न ही इसका समर्थन करेंगे। निर्धारित व्यय सीमा से अधिक व्यय नही करेंगे। किसी भी उम्मीदवार या उम्मीदवारों के राजनैतिक विचारों या कृत्यों से असहमति एवं मतभिन्नता होते हुये भी प्रत्येक व्यक्ति के शंातिपूर्ण एवं विघ्नरहित पारिवारिक जीवन के अधिकार का आदर किया जायेगा। किसी व्यक्ति के विचार/मत/कृत्य का विरोध उसके निवास के सामने कोई भी प्रदर्शन या धरना आयोजित करके नही किया जायेगा।
चुनाव प्रचार हेतु किसी व्यक्ति की भूमि/भवन/अहाते/दीवार का उपयोग झंडा लगाने/झंडियां टांगने/बैनर लगाने जैसे कार्य उस व्यक्ति की अनुमति के बिना नही करेंगे और न ही अपने चुनाव कार्यकर्ताओं/एजेण्ट को ऐसा करने देंगे। किसी भी शासकीय/सार्वजनिक सम्पत्ति/स्थल/भवन/परिसर में विज्ञापन, वाल राइटिंग नही करेंगे। कटआउट/होर्डिंग/बैनर आदि नही लगायेंगे और न अन्य किसी प्रकार से गन्दा करेंगे। अन्य उम्मीदवार के पक्ष में आचार संहिता का उल्लंघन कर लगाये गये झंडे या पोस्टरों को स्वयं न हटाकर उन्हे हटाने तथा नियमसंगत कार्यवाही हेतु जिला प्रशासन से अनुरोध करेंगे। चुनाव प्रचार हेतु वाहनों के प्रयोग के लिये जिला प्रशासन से अनुमति प्राप्त करेंगे। चुनाव प्रचार हेतु लाउडस्पीकर एवं साउण्ड बाक्स का प्रयोग पूर्वानुमति लेकर ही करेंगे और इनका प्रयोग रात्रि 10 बजे से प्रातः 06 बजे तक प्रतिबन्धित रहेगा। स्थायी तौर पर लाउडस्पीकर एवं साउण्ड बाक्स नही स्थापित किये जायेगें। टीवी चैनल/केबिल नेटवर्क/वीडियो वाहन अथवा रेडिया से किसी भी प्रकार का विज्ञापन / प्रचार जिला प्रशासन की अनुमति के पश्चात् ही कर सकेंगे। कोई भी मुद्रक या प्रकाशक या कोई व्यक्ति ऐसा कोई निर्वाचन/प्रचार सामग्री जिसके मुख पृष्ठ पर उसके मुद्रक व प्रकाशक का नाम और पता न हो, मुद्रित या प्रकाशित नही करेगा और न ही मुद्रित या प्रकाशित करायेगा। मुद्रण के अन्तर्गत फोटोकापी  भी सम्मिलित होगी। किसी व्यक्ति द्वारा राजनैतिक दलों/प्रत्याशियों की अनुमति के बिना उनके पक्ष में निर्वाचन विज्ञापन या प्रचार सामग्री प्रकाशित नही करायी जायेगी। यदि कोई व्यक्ति इसका उल्लंघन करता है तो उसका यह कृत्य भा0द0सं0 की धारा 171-भ् के अन्तर्गत दण्डनीय होगा।
पुलिस अधीक्षक विपिन कुमार मिश्र ने प्रत्याशियों से कहा कि वह चुनाव को निष्पक्षता के साथ संपन्न कराने में जिला प्रशासन का सहयोग करें। कोई भी ऐसा कृत्य न करें जिससे कि प्रशासन को कड़े कदम उठाने हेतु बाध्य होना पड़े। उन्होने सभाओं एवं जुलूस के सबंन्ध में बताया कि सभी राजनीतिक दल/उम्मीदवार/इलेक्शन एजेण्ट चुनाव प्रचार के दौरान सभा/रैली जुलूस का आयोजन जिला प्रशासन से पूर्व अनुमति लेकर करेंगे। किसी अन्य राजनीतिक दल/उम्मीदवार के समर्थ में आयोजित सभाओं और जुलूसों आदि मेे किसी भी प्रकार से बाधा या विघ्न उत्पन्न नही करेंगे।
सभा/रैली/जुलूस को इस प्रकार आयोजित करेंगे कि यातायात बाधित न हो। जुलूसों, सभाओं या रैलियों में जिला प्रशासन द्वारा दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के अन्तर्गत प्रतिबन्धित असलहें/लाठी-डण्डे/ईंट -पत्थर आदि लेकर नही चलेंगे। सभा/रैली/जुलूस में लाउडस्पीकर या किसी प्रचार वाहन/वीडियो वाहन का उपयोग जिला प्रशासन की अनुमति लेकर करेंगे। रात 10 बजे से प्रातः 06 बजे तक लाउडस्पीकर/साउण्ड बाक्स का प्रयोग नही किया जायेगा। मतदान समाप्त होने के लिये निर्धारित समय से 48 घंटे पूर्व सार्वजनिक सभा व चुनाव प्रचार बंद कर दिया जायेगा। इसमे टीवी /चैनल/रेडियो/ प्रिन्ट मीडिया आदि द्वारा चुनाव प्रचार/विज्ञापन भी सम्मिलित होगा। इसके पश्चात् जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक मय फोर्स के नगर क्षेत्र में फ्लैग मार्च भी किया गया। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी डा0विपिन कुमार मिश्र, नगर मजिस्ट्रेट वन्दिता श्रीवास्तव, अपर पुलिस अधीक्षक कु0ज्ञांनजय सिंह, उप जिलाधिकारी, उप जिलाधिकारी सदर एवं क्षेत्राधिकारी सदर एवं शाहाबाद आदि मौजूद रहे।