संजय सिंह, सांसद, आप ने पेयजल एवं स्वच्छता मिशन पर उठाए सवाल! | IV24 News | Lucknow

तीसरे टी-२० मैच में इंग्लैण्ड ने भारत को धो दिया!

★ आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय

अहमदाबाद के स्टेडियम में आज (१६ मार्च) खेले गये तीसरे टी-२० मैच में इंग्लैण्ड ने भारत को आठ विकेटों से पराजित कर शृंखला में २-१ की अग्रता अर्जित कर ली है। इंग्लैण्ड के गेंदबाज़ों की गतिपूर्ण उछाल और सटीक धारदार गेंदबाज़ी के सम्मुख भारतीय बल्लेबाज़ी निरुत्तर रही। कप्तान विराट कोहली के अलावा कोई भी बल्लेबाज़ विश्वास के साथ प्रदर्शन नहीं कर सका। ‘पॉवर प्ले’ में ही भारत के ३ विकेट गिर चुके थे।

गेंद के बदलते स्वभाव के प्रतिकूल की गयी भारतीय बल्लेबाज़ी आत्मघाती सिद्ध हुई। दूसरी ओर, भारत की दिशाहीन कप्तानी, गेंदबाज़ी तथा क्षेत्ररक्षण का दुष्परिणाम पराजय के रूप में दिखा। बल्लेबाज़ बटलर ने भारतीय गेंदबाज़ों के पाँव उखाड़ दिये थे। भारत की ओर से दो कैचों का छोड़ना महँगा सिद्ध हुआ। कप्तान विराट कोहली और युजवेन्द्र चहल ने एक-एक कैच छोड़े थे।

भारतीय बल्लेबाज़ों का क्रम नहीं बदलना चाहिए था। शार्दुल ठाकुर और युजवेन्द्र चहल की गेंदबाज़ी प्रभावहीन थी। भारत का टॉस हारकर बल्लेबाज़ी करना भी पराजय का एक कारण था; क्योंकि लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय दल मैच जीत सकता था।

मुख्य प्रश्न यह है कि आरम्भिक बल्लेबाज़ के० एल० राहुल तीन पारियों में शून्य पर आऊट हुए थे; ऐसे में, उन्हें पुन: मौक़ा देने के स्थान पर सूर्य कुमार यादव को लाना चाहिए था। गेंदबाज़ी की दृष्टि से शार्दुल ठाकुर के स्थान पर दीपक चहर को अवसर देना चाहिए था। भारत के हरफ़नमौला भी असफल सिद्ध रहे।

बहरहाल, अभी दो मैच और हैं। भारत को आत्मपरीक्षण करते हुए, अपनी जीवटता का परिचय देना होगा।

(सर्वाधिकार सुरक्षित– आचार्य पं० पृथ्वीनाथ पाण्डेय, प्रयागराज; १६ मार्च, २०२१ ईसवी।)