संजय सिंह, सांसद, आप ने पेयजल एवं स्वच्छता मिशन पर उठाए सवाल! | IV24 News | Lucknow

साहित्य है समाज और राष्ट्र की चेतना जगाने का माध्यम

राजेश पुरोहित, भवानीमंडी

पटना : 15 जूलाई 2021को गूंज कलम की साहित्यिक मंच के मुख्य मंच, झारखंड इकाई, जम्मू-कश्मीर इकाई और कटिहार इकाई का भव्य उद्घाटन कार्यक्रम आयोजित हुआ। कार्य क्रम देर रात तक चला।

इस कार्यक्रम में अध्यक्षीय संबोधन में डॉ.स्नेहलता द्विवेदी ‘आर्या’ में अपने संबोधन में साहित्य को समाज और राष्ट्रीय चेतना जगाने का माध्यम बताया और साहित्य की साधना को उच्चतम कोटि का कार्य बताया। उन्होंने कहा कि साहित्यकारों की यह महती भूमिका समाज के संस्कारों के सजग प्रहरी बनें। गूंज कलम की साहित्यिक मंच को उन्होंने परिवार भाव से ‘सब सबके लिए’ के सिद्धांत पर समभाव से चलनेवाला संस्थान बताया।

उद्घाटन समारोह के उद्घाटन कर्ता के रूप में डॉ. पवन प्रबल शर्मा ने अपने संबोधन में गूंज कलम की साहित्य मंच को उदीयमान सशक्त साहित्यिक जागरण का मंच बताया और इसके सफलता की कामना की। डॉ.(प्रो.) अनवर इरज ने साहित्य के इस मंच को शुभकामनाएं देते हुए डॉ. आर्या जी की सराहना की और विश्वास व्यक्त किया कि निश्चित रूप से यह मंच साहित्य की उत्कृष्ट सेवा करेगा और साहित्यिक उन्नयन का कार्य करेगा। विशिष्ट अतिथि डॉ. सुरेश चंद्रा जी ने डॉ. आर्या को साहित्य जगत का एक सशक्त हस्ताक्षर बताया और विश्वास व्यक्त किया की यह मंच अपनी विशिष्ट छवि आवश्य स्थापित करेगा। विशिष्ट अतिथि श्री रविशंकर विद्यार्थी ने मंच के उद्देश्य को सराहते हुए साहित्य के विशिष्ट माणिक्य की तरह बताया। मंच का संचालन श्री कैलाश चंद्र साहू ने बड़ी कुशलतापूर्वक सम्प्रेषण की उत्कृष्ट शैली में किया।

कार्यक्रम की शुरुआत गणेश वंदना से हुई जिसे डॉ . अर्चना वर्मा में सुरीले अंदाज में प्रस्तुत किया। उसके बाद सरस्वती बंदना को मोहक अंदाज में सुश्री रुचिका राय जी ने प्रस्तुत किया। अतिथियों का स्वागत राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी श्री डॉ.राजेश कुमार शर्मा” पुरोहित” जी ने अपने ओजस्वी अंदाज में किया। डॉ. रामकुमार झा निकुंज ने प्रभावी अंदाज में मंच को सारस्वत और जागृत बताया।

इस समारोह में विभिन्न इकाइयों के पदाधिकरियों का मनोनयन हुआ। झारखंड इकाई के अध्यक्ष पद पर सुश्री ज्योति कुमारी जी, जम्मू कश्मीर के अध्यक्ष के पद पर श्री अमरजीत सिंह जी, कटिहार इकाई के अध्यक्ष के रूप में श्री अनुज कुमार वर्मा जी का मनोनयन किया गया। कार्यकारिणी का गठन शीघ्र ही किया जाएगा। मंच के सभी सदस्यों ने इस समारोह में सक्रिय सकारात्मक भागीदारी निभाई और विविध प्रकार की रचनाओं के वीडियो पोस्ट किया साथ ही बहुत सदस्यों ने लाइव आकर कविता पाठ किया।

काव्य पाठ करने वालों में सस्मिता मुर्मु ज्योति भगत अमरजीत सिंह कैलाश चन्द्र साहू शिव सान्याल अंकुर सिंह आशुतोष कुमार नीलम पटेल हेमराज सिंह हंस पप्पू यादव शायर देव मेंहरानियाँ बालू लाल वर्मा शिवा एमचे ममता कुमारी अभिषेक मिश्रा दिलीप कुमार झा हरकिशोर परिहार आनन्द कृष्णन सेतुरमन सुमन दास गुप्ता राम कुमार झा किरण पांडेय शैलेश दास प्रजापति नीलम द्विवेदी अमित कुमार विजनोरि प्रज्ञा आम्बेरकर विनोद कुमार ओझा डॉ ज्योति सिंह वेदी येसु सुधीर श्रीवास्तव ज्योति भगत सुधा चतुर्वेदीएम एस अंसारी इंद्रजीत कुमार अंजू दास गीतांजलि कृष्णकांत बडोनी हँसराज हंस कुलदीप रुहेला आभा चौहान बेलीराम कनस्वाल आराधना प्रियदर्शिनी ज्योति सिन्हा रीता झा विनोद शर्मा निभा राय नवीन अनिल राही रमेशचंद्र शर्मा निर्मला सिन्हा कौशल किशोर डॉ कन्हैया लाल गुप्ता नवनीत कमल मोनिका प्रशाद निक्की शर्मा मनोज कुमार चंद्रवंशी श्रीकांत तैलंग भारती यादव ओम श्रीवास्तव कंचन वैभव वर्मा रिपुदमन झा पिनाकी गिरीश चंद्र कुलदीप रुहेला संगीता सिंघल संस्था के तरफ से सम्मानित किया जायेगा।