मतदान आपकी जिम्मेदारी, ना मज़बूरी है। मतदान ज़रूरी है।

जिलाधिकारी के निर्देश पर नगर पंचायत व पशुविभाग की संयुक्त टीम ने एक दर्जन छुट्टा गोवंशों को पकड़वाया

कछौना, हरदोई। जिला अधिकारी के निर्देश पर नगर पंचायत व पशु विभाग की संयुक्त टीम ने अभियान चलाकर छुट्टा गौवंशों को पकड़कर नगर पंचायत के बाउंड्री वाले परिसर में बंद कराया, जिन्हें सुबह नजदीकी गौशाला में पहुंचाया जाएगा।

         बताते चलें छुट्टा गौवंश ज्वलंत समस्या बनी है। पशुपालकों द्वारा अपने पशुओं को छुट्टा छोड़ दिया जा रहा है। जिसके कारण आए दिन सड़क दुर्घटनाओं में इजाफा हो रहा है। कस्बा की मुख्य मार्ग सहित चौराहे पर, नर्सिंग होम के पास, कोतवाली परिसर के आगे, पेट्रोल पंपों के पास, सुन्नी ग्राम सभा के सामने सैकड़ों की संख्या में छुट्टा गौवंश सायं ढलते ही बसेरा बना लेते हैं। यह मार्ग हाईवे होने के कारण आए दिन बेजुबान पशु दुर्घटना का शिकार होकर चुटहिल होकर तड़प तड़प कर मरने को विवश है। वही राहगीर गंभीर रूप से घायल हो रहे हैं। आए दिन दुर्घटनाओं की शिकायत पर प्रशासन ने संज्ञान लेते हुए तत्कालीन छुट्टा गौवंशों को पकड़कर स्थानीय गौशाला में पहुंचाने का कड़ा निर्देश दिया। शुक्रवार को जिला अधिकारी के कड़े निर्देश के बाद पशु विभाग की टीम व नगर पंचायत की संयुक्त टीम ने अभियान चलाकर एक दर्जन छुट्टा गौवंशों को पकड़कर बंद कराया। पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ० आशीष कुमार ने बताया जो पशुपालक अपने पशुओं को छुट्टा छोड़े हैं, ऐसे पशुपालकों को उन्हें चिन्हित कर उनके खिलाफ पशु क्रूरता अधिनियम के तहत कानूनी कार्रवाई की जाएगी। यह अभियान अनवरत रूप से चलता रहेगा। टीम में पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ० आशीष कुमार, पशु प्रसार अधिकारी डॉ० चंद्रप्रकाश व वेटनरी फार्मासिस्ट अशोक कुमार वर्मा, नगर पंचायत के लिपिक जय बहादुर सिंह नगर पंचायत की टीम में शामिल थे। इस अभियान से पशुपालकों में खलबली मच गई है।

रिपोर्ट – पी०डी० गुप्ता