कोथावाँ प्रा०वि० का हाल, बच्चों को दूध और फल नहीं दे रहे जिम्मेदार

केशव प्रसाद मौर्य के गृह जनपद कौशाम्बी की छः में से दो सीटें ही भाजपा की

विजय कुमार-


उत्तर प्रदेश के डिप्टी सी. एम. केशव प्रसाद मौर्य के गृह जनपद कौशाम्बी की छः में से पाँच नगर पंचायतों पर भाजपा की करारी शिकस्त हुई है । कौशाम्बी की छः नगर पंचायतों में भाजपा एक सीट पर ही अपने उम्मीदवार को नगर पंचायत अध्यक्ष के पद पर विजय दिलाने मे कामयाब हो पायी है। चायल, करारी, सिराथू एवं अझुवा में जहाँ निर्दलीय उम्मीदवारों ने जीत हासिल की तो वहीं मंझनपुर में बसपा ने विजयश्री प्राप्त की। भाजपा का प्रदर्शन कौशाम्बी मे बेहद निराशाजनक रहा और वह वार्डों में मे अपने सभासदो को जिताने मे काफी हद तक असफल रही। केशव प्रसाद के निवास सिराथू के वार्ड संख्या 9 तक मे भाजपा के प्रत्याशी को सभासद पद पर जीत नहीं मिल सकी।

सराय आकिल का चुनाव परिण म बदलने की चर्चा जोरों पर।परिणाम आने के कई घंटे बाद भाजपा के शिवदानी के विजयी होने की चर्चा जोरों पर। कई घंटे पहले काँग्रेस के रोहित आजाद के विजयी होने की सूचना मिली थी। राज्य निर्वाचन आयोग की वेबसाइट के अनुसार भी सराय आकिल से भाजपा के शिवदानी 199 मतों की बढ़त के साथ विजयी घोषित हुए। उन्हें 2976 मत मिले जबकि उनके निकटतम प्रतिद्वंदी कांग्रेस के रोहित आजाद 2777 मत प्राप्त कर सके। भाजपा एक सीट सराय आकिल की जीतने मे कामयाब हुई है। कई घंटे बाद समाचार मिलने के बाद परिवर्तन हुआ है साथ ही चायल के निर्दलीय विजयी प्रत्याशी विजयी होते ही भाजपा के चायल विधायक संजय गुप्ता से मिलकर भाजपा में शामिल हो गये। इसप्रकार भाजपा कौशाम्बी की छः नगर पंचायतों मे से दो मे काबिज होकर कौशाम्बी में चायल विधानसभा की दोनो नगर पंचायतों पर काबिज होते हुए अपनी छवि बचाने मे कामयाब हुई है।