सई नदी की करुण कथा : पौराणिक और ऐतिहासिक नदी मर रही है

अधूरा पड़ा सामुदायिक शौचालय, कैसे मिले लाभ?

जिम्मेदारों के दावों की पोल खोल रहा शौचालय

कछौना, हरदोई। विकास खण्ड कछौना के अंतर्गत ग्राम पंचायत महरी के ग्राम बिबियापुर में ग्रामीणों के लिए सामुदायिक शौचालय का निर्माण कार्य अधूरा पड़ा है, जिससे सरकार के नुमाइंदे जनकल्याणकारी योजना के सही क्रियान्वयन पर पलीता लगा रहें है।

इस सामुदायिक शौचालय का निर्माण पूर्व गांव की सरकार में शुरू हुआ था, परन्तु गांव की सरकार का कार्यकाल समाप्त हुए लगभ दो वर्ष का समय बीत चुका हैं, लेकिन इस गांव का अभी तक सामुदायिक शौचालय अधूरा पड़ा, सरकार की प्राथमिकता के कार्य अधूरे पड़े होने के कारण आमजनमानस खुले में शौच जाने को विवश हैं। वही आलम यह है वर्तमान गांव की सरकार का कहना है कि इस शौचालय के निर्माण हेतु स्वीकृत हुयी धनराशि का पूर्व गांव की सरकार व सचिव ने बंदर बांट कर धनराशि का गबन किया है, ऐसे में सरकार द्वारा पुनः धनराशि स्वीकृत होने पर ही कार्य करना संभव है।

जनप्रतिनिधियों व जिम्मेदारों की खाऊ कमाऊ नीत का खामियाजा ग्रामीणों की सुविधा के लिए बनने वाले सामुदायिक शौचालय का निर्माण भी अधूरा पड़ा है। शासन ने ग्रामीण अंचल के लोगों को साफ सुथरा रखने एवम गंदगी से फैलने वाली बीमारियों से बचाने के लिए गांव-गांव सामुदायिक शौचालयों का निर्माण कराया गया हैं। पंचायत राज विभाग द्वारा गांव में बनाए गए सामुदायिक शौचालय के निर्माण कार्य पूर्ण दिखाने के साथ उनके रखरखाव के लिए समूहों में धन राशि हस्तांतरित करने के बाद शौचालयों के संचालित होने का दावा कर रहें है, लेकिन अभी भी ग्राम सभा महरी के ग्राम बिबियापुर में बना सामुदायिक शौचालय जिम्मेदार लोगों की दावों की पोल खोल रहा है।

उक्त मामले को लेकर जिला पंचायत राज अधिकारी से बात की तो उन्होंने बताया जांच करा कर दोषी व्यक्ति के खिलाफ उचित कानूनी कार्यवाई कर शौचालय का निर्माण शीघ्र कराया जाएगा।

रिपोर्ट – पी०डी० गुप्ता