मतदान आपकी जिम्मेदारी, ना मज़बूरी है। मतदान ज़रूरी है।

योग जीवन का आधार है – डॉ. राजेश पुरोहित

भवानीमंडी:- देश के सुप्रसिद्ध कवि एवम साहित्यकार डॉ. राजेश कुमार शर्मा पुरोहित ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर घर पर ही योग ,प्राणायाम, सूर्य नमस्कार ,आसन, ध्यान किया।
उन्होंने अनुलोम विलोम कपालभाति भ्रामरी प्राणायाम नियमित करने की बात कही। योग चित की वृत्तियों का निरोध करने की क्रिया है। योग हमारे जीवन का आधार है। योग से मोटापा ह्रदय रोग रक्तचाप जैसी असाध्य बीमारियो से बचा जा सकता है। उष्ट्रासन उत्तानपाद आसन सर्वांगासन ताड़ासन वज्रासन मण्डूकासन शलभासन मकरासन धनुषासन शीर्षासन,नियमित करना चाहिए।

सूर्य नमस्कार करने से सम्पूर्ण व्यायाम हो जाता है।योग हमारी ऋषि परम्परा से चला रहा है।योग हमारी संस्कृति का हिस्सा है। आओ योग करें। निरोग रहें।