कोथावाँ प्रा०वि० का हाल, बच्चों को दूध और फल नहीं दे रहे जिम्मेदार

संभुई गांव में लगा कूड़े का अंबार, नियमित सफ़ायी नहीं होने से संक्रामक बीमारी का बढ़ा ख़तरा

कौशाम्बी। कड़ा ब्लॉक के संभुई गांव में कूड़े करकट का ढेर, प्रमुख रास्तों पर गन्दगी का अंबार लगने से लगातार संक्रामक बीमारियों का खतरा बढ़ रहा है। ग्राम विकास अधिकारी राजमणि भारती की मिलीभगत से सफाई कर्मचारी बार-बार शिकायत के बावजूद घर में बैठ कर सरकारी वेतन ले रहा है।

योगी सरकार की महत्त्वाकांक्षी योजना स्वच्छ भारत अभियान को सेक्रेटरी की मनमानी से सफाई कर्मचारी ठेंगा दिखा रहा है। गांव में साफ सफाई बिल्कुल नहीं कर रहा है। जिससे ग्रामीण भयंकर संक्रामक बीमारी की चपेट में कभी भी आ सकते हैं। समाजसेवी आसिफ काजमी ने बताया कि ग्राम विकास अधिकारी को बुलाकर गांव में फैली गन्दगी को सफाई करवाने के लिए कहा गया लेकिन उन्होनें कहा कि पहले जहां मुद्रा मिलेगी, वहीं हम कार्य करवाएंगे। साफ सफाई का कार्य बाद में करवाया जाएगा। सेक्रेटरी की मनमानी से ग्रामीणों में रोष व्याप्त है। ग्रामीणों ने गांव में फैली गन्दगी को साफ करने के लिए सम्बन्धित ग्राम विकास अधिकारी व संभुई गांव में तैनात सफाई कर्मचारी के विरुद्ध कठोर कार्यवाही करने के लिए जिला अधिकारी कौशाम्बी का ध्यान आकृष्ट कराया है।

कौशाम्बी से ब्यूरो चीफ मसुरिया दीन मौर्य की रिपोर्ट