संजय सिंह, सांसद, आप ने पेयजल एवं स्वच्छता मिशन पर उठाए सवाल! | IV24 News | Lucknow

माओवाद प्रभावित क्षेत्र के लोगों की रक्षा के लिए सरकार प्रतिबद्ध

छत्‍तीसगढ़ के नक्‍सल प्रभावित बीजापुर जिले के जांगला गांव में एक जनसभा को संबोधित करते हुए श्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा कि सरकार का आकांक्षी जिला कार्यक्रम देश के 115 पिछड़े जिलों की विकास प्रक्रिया में क्रांतिकारी बदलाव लाएगा। उन्होंने कहा कि ये जिले एक बड़े परिवर्तन का उदाहरण बनेंगे ओर देश में बदलाव का नया मॉडल बनकर उभरेंगे। उन्‍होंने कहा कि अब तक पिछड़े रहे इन जिलों के समावेशी विकास के लिए सरकार नए तरीके से काम कर रही है।

प्रधानमंत्री ने आम्‍बेडकर जयंती के अवसर पर जांगला में आयुष्‍मान भारत योजना के तहत एक स्‍वास्‍थ्‍य और आरोग्‍य केन्‍द्र का उद्घाटन किया। इस अवसर पर उन्‍होंने कहा कि देशभर में ऐसे कई केन्‍द्र खोले जाएंगे। इसके तहत देश की हर बड़ी पंचायत में यानी लगभग डेढ़ लाख एक जगह पर सब सेंटर और प्राइमरी हेल्थ सेंटर्स को हेल्थ एंड वेलनैस सेंटर के रूप में विकसित किया जाएगा। सरकार का लक्ष्य इस काम को 2022 तक पूरा करने का है। श्री मोदी ने कहा कि सभी सुविधाओं से युक्‍त ये केन्‍द्र ग्रामीणों के लिए पारिवारिक डाक्‍टर की तरह काम करेंगे। उन्‍होंने कहा कि आयुष्‍मान भारत और अन्‍य योजनाएं सामाजिक न्‍याय सुनिश्चित करने के साथ ही क्षेत्रीय असन्‍तुलन को भी खत्‍म करेंगी। श्री मोदी ने कहा कि 2022 तक देश में डेढ़ लाख स्‍वास्‍थ्‍य और आरोग्‍य केन्‍द्र खोल दिए जाएगें। उन्‍होंने कहा कि आयुष्‍मान भारत योजना एक स्‍वस्‍थ, सक्षम और संतुष्‍ट नए भारत का निर्माण करेगी। श्री मोदी ने कहा कि आज से पूरे देश में ग्राम स्‍वराज अभियान चलाया जा रहा है।

ग्राम स्‍वराज अभियान पूरे देश में आज से पांच मई त‍क चलाया जाएगा। मुझे विश्‍वास है कि बाबा साहब की जयंती पर आज यहां केन्‍द्र सरकार और राज्‍य सरकार की जिन योजनाओं की शुरूआत हुई है वो भी विकास की जीवन धोरण बदलने की एक नये कीर्तिमान बनाने में कामयाब होगी। प्रधानमंत्री ने माओवाद से प्रभाविज जिले के भटके हुए नौजवानों को समाज की मुख्‍यधारा में लाने के लिए हरसंभव प्रयास के अपनी सरकार के संकल्‍प को दोहराया। देश के सबसे अधिक माओवाद प्रभावित जिलों में से एक बीजापुर के जांगला गांव में आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लोगों से उन बाहरी तत्वों को पहचानने की अपील की जो अपने निहित स्वार्थ की पूर्ति के लिए स्थानीय युवाओं को बहकाकर उनकी जान जोखिम में डाल रहे हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि माओवाद प्रभावित इस क्षेत्र के लोगों की रक्षा के लिए सरकार प्रतिबद्ध है। उन्होंने यहां के लोगों का आह्वान किया कि वे विकास में प्रतिभागी बन देश को नई ऊंचाई पर पहुंचाने में अपना योगदान दें।